भारत ने पहली बार दक्षिण अफ्रीका में एकदिवसीय श्रृंखला जीती, मंगलवार को पांचवे मैच में 73 रनों की जीत के साथ इतिहास रचा और सीरीज जीतकर 4-1 की बढ़त हासिल कर ली. भारत की ओर से सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा से सबसे ज्यादा 115 रन बनाये और जादुई कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेन्द्र चहल ने सीरीज में निर्णायक गेंदबाजों का महत्वपूर्ण रोल निभाया और दक्षिण अफ्रीका के सभी बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखा दिया. दक्षिण अफ्रीका में भारत की पहली एक दिवसीय ODI प्रतियोगिता भी जीती. भारत अब वनडे में शीर्ष स्थान पर है और इसमें कोई संदेह नहीं है कि इस प्रदर्शन के बाद भारतीय बल्लेबाजो का मनोबल बहुत बढ़ गया है.

भारत अब वनडे में शीर्ष स्थान

अफ्रीका के सामने भारत ने 50 ओवेर्स में 275 रनों का लक्ष्य दिया. जिसका पीछा करते हुए वे 42.5 ओवर में 201 रनों के लक्ष्य पर ही ढेर हो गये. टॉस जीतने के बाद, दक्षिण अफ्रीका ने भारत को बल्लेबाजी करने का आमंत्रण दिया. शिखर धवन 34 रन बनाकर आउट हो गये, लेकिन रोहित शर्मा और विराट कोहली ने चौथे विकेट के लिए 105 रन की साझेदारी की. मेजबान टीम से हासिम अमला ने 71 रनों की पारी खेली और हेइनरिक क्लासेन ने 39 रन बनाये और अफ्रीका के बल्लेबाजो ने आखिरी तक संघर्ष किया.

मेजबान टीम को शानदार स्टार्ट मिला

13 रनों के अंदर तीन विकेट गिरने के कारण दक्षिण अफ्रीका संकट में आ गई थी. कप्तान एडिन मार्कराम और अमला ने पहले विकेट के लिए 52 रन बनाये. इस बीच मार्कराम को एक मौका मिला जब श्रेयस अय्यर ने जसप्रीत बुमराह की गेंद पर मार्कराम का कैच छोड़ा. हां पर वह इस मौके का फायदा नहीं उठा सके और बुमराह ने उन्हें विराट कोहली के हाथों कैच कराया. और इस तरह  उनकी सारी टीम धीरे धीरे ढेर हो गयी और भारत ने ये मैच को 74 रनों से शानदार बल्लेबाजी और गेंदबाजी से जीत लिया .

6 वनडे मैचों की सीरीज चार-एक से अपने नाम करते हुए दक्षिण अफ्रीका में भारत ने अपनी पहली सीरीज जीतने का इतिहास रचा. भारत ने इससे पहले कभी भी दक्षिण अफ्रीका में वनडे सीरीज नहीं जीती थी. भारत की इस जीत के हीरो शतक बनाने वाले सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा 115 और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव रहे.

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here