5 वजह - जिनसे सफल हुआ अनुष्का विराट का रिश्ता दिल्ली, कोलकाता और लखनऊ जैसे शहरों में यंग कपल के डायवोर्स के मामले बहुत तेजी से सामने आ रहे हैं। कैसे हुआ अनुष्का-विराट का रिश्ता सफल ?.  इसमें ज्वॉइंट फेमिली होने के साथ ही इंडिपेंडेंस को बड़ा रीजन बताया जा रहा है। आंकड़ों की बात करें तो 11,667 डायवोर्स के केस सिर्फ मुंबई में लगाए गए। कैसे हुए अनुष्का-विराट एक दूजे के ?.

क्या हुआ ?

क्या हो गया है लोगो को ?. वहीं 8247 डायवोर्स के केस कोलकाता में सामने आए। लखनऊ में 2 हजार केस लगे। यह आंकड़े दो साल पहले के हैं। एक्सपर्ट्स का कहना है कि मेट्रो सिटी में डायवोर्स के मामले अब और ज्यादा बढ़े हैं।  आज हम आपको बताने जा रहे है कैसे हुआ अनुष्का-विराट का रिश्ता सफल।

इसी साल अनुष्का–विराट ने शादी की। पिछले 4 साल से अफेयर चल रहा था इन दोनों का। इस कपल ने अपने रिलेशनशिप को ब्बहुत समझदारी से निभाया। अनुष्का के बारे में किसी ने कुछ भी बोला तो ना ही उन्होंने अनुष्का का साथ दिया बल्कि कमेंट करने वाले को भी नहीं छोड़ा। रिलेशनशिप में होने के बावजूद अनुष्का-विराट ने अपने इस रिश्ते को हरसंभव प्रयास किया इसे प्राइवेट रखने का।

ऐसे में अनुष्का-विराट से ये बात सिखने योग्य है। अनुष्का-विराट तारीफ के योग्य है। ऐसे में अनुष्का-विराट से बातें सिखने योग्य है की कैसे किसी रिश्ते को मजबूती से बनाए रखे। ऐसे में अनुष्का-विराट के रिश्ते को लेकर हम महत्वपूर्ण वजहें बताने जा रहे है।

  1. रिश्ते को रखा प्राइवेट :-

विराट-अनुष्का ने अपने रिश्ते को प्राइवेट रखने की कोशिश की। पब्लिक में जब भी उनके रिलेश्नशिप और ब्रेकअप से जुड़ी बातें आईं तो उन्होंने प्रोफेशनल की तरह बिहेवियर किया। इंटरव्यूज में भी जब उनसे रिलेश्नशिप को लेकर सवाल किए गए तो उन्होंने डिप्लोमैटिक आंसर देकर अपने रिश्ते को प्राइवेट बनाए रखने की कोशिश की।

  1. परिवार को दिया अधिक मूल्य :-

विराट और अनुष्का दोनों अपने परिवार को सबसे अधिक इम्पोर्टेंस देते है। अक्सर दोनों परिवार के साथ फोटोज शेयर करते है। अपने चल रहे रिश्ते को भी उन्होंने परिवार के हिसाब से अछे से बना कर रखा।

  1. बुर वक्त में दिया साथ एक दूजे का :-

विराट के ख़राब परफॉरमेंस के वक़्त जब सारे क्रिकेट प्रेमी अनुष्का को गलत ठहरा रहे थे तब विराट ने खुलकर इसका विरोध किया। उन्होंने अनुष्का की इमेज पर सवाल खड़ा करने वालों को जवाब दिया। इससे यह साबित होता है कि दोनों एक-दूसरे के अच्छे और बुरे वक्त में साथ खड़े रहे। हर रिलेशनशिप में यह जरूरी होता है।

  1. प्रोफेशन को नहीं छोड़ा :-

विराट-अनुष्का दोनों ही प्रोफेशनल हैं। इनके लिए अपना काम प्रायोरिटी में होता है। फिल्म रब ने बना दी जोड़ी से लेकर अभी तक अनुष्का ने अपने आप को साबित किया है। वहीं विराट के प्रोफेशनलिज्म से पूरी दुनिया वाकिफ है।

  1. Sincerity  को बनाए रखा :-

विराट-अनुष्का दोनों ही अपनी सिनसिएरिटी के लिए जाने जाते हैं। फिर चाहे वो प्रोफेशनल लाइफ हो या पर्सनल लाइफ। अपने रिलेशन को लेकर भी दोनों हमेशा Sincere रहे। कई बार ऐसे मौके आए लेकिन इन्होंने एक-दूसरे का साथ नहीं छोड़ा। दुनिया से छुपाते हुए दोनों ने समय-समय पर एक-दूसरे के साथ महत्वपूर्ण टाइम भी बिताया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here