अगर आप ने कभी ऑनलाइन कुछ खरीदा हो तो आप Flipkart, Amazon और Walmart जैसे companies से भली-भांति परिचित होंगे, तो हम आपको बता दें की Amazon और Walmart अमेरिका की दो बहुत बड़ी इ कॉमर्स कंपनिया हैं. जिन्होंने पुरे विश्व में अपना व्यापार फैला लिया है तो वहीँ Flipkart भारत की कंपनी है जिसका भारत में काफी अच्छा बाजार है. तो अब इन companies ने अपना व्यापार को और बड़ा करने के लिए भारतीय बाजार में आ गयीं हैं इसके लिए उन्होंने Flipkart को अपना निशाना बनाया है. भारत की सबसे बड़ी E-commerce कंपनी Flipkart को खरीदने के लि‍ए पहले Walmart ने Flipkart को अपना ऑफर दिया तो वहीँ  उसके कुछ ही दिनों के बाद अमेजन ने भी Flipkart को Amazon के साथ काम करने की बात कही.

दोनों ही हैं अमेरिकी कंपनी

ये दोनों हीं अमेरिका की companies हैं जो भारत में अपने व्यापार को अधिक से अधिक फैलाकर यहाँ के लोगों अपना ग्राहक बनाना चाहती हैं. हमरी जानकारी के अनुसार अभी भारत का E-commerce मार्केट 15 अरब डॉलर करीब 1 लाख करोड़ रुपए का हो सकता है. हाँ पर ,Flipkart की  40 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीदने के लिए Walmart उससे बातचीत कर रही है. अमेजन ने जहां इस तरह की किसी डील की संभावना को खारिज किया है, वहीं Flipkart की तरफ से भी कोई प्रतिक्रिया अभी तक नहीं आई है.

Walmart का क्या फायदा?

कहा जा रहा है की Walmart 10-12 अरब डॉलर के साथ Flipkart के  हि‍स्‍सेदारी को खरीदेगी. Walmart 20-26% तक  हि‍स्‍सेदारी करेगी और Flipkart की सबसे बड़ी शेयरहोल्‍डर बनेगी. अमेजन को टक्‍कर देने के लिए और अपनी ऑनलाइन सेल्‍स को बढ़ाने के लि‍ए Walmart अमेरि‍का में हुए हालि‍या जेट.कॉम डील और चीन में जेडी.कॉम के साथ हुई डील से आगे नि‍कलना चाहती है. भारत में Walmart को रेग्‍युलेशन के कारण मुश्‍कि‍लों का सामना करना पड़ रहा है और Flipkart में इन्‍वेस्‍टमेंट उसे ऑनलाइन रि‍टेल मार्केट में बड़ी जगह दे देगा. अगर Walmart की Flipkart से डील हो जाती है तो इससे अमेजन के खिलाफ वह अधिक ताकत के साथ मुकाबला कर पाएगी, क्‍योंकि पिछले काफी समय से दोनों में कड़ी टक्‍कर है.

तो वहीँ एक और बात सामने आई है की Flipkart की डील अगर Walmart से हो जाती है तो भारतीय बाजार में अमेजन के लिए एक बहुत बड़ी समस्या खड़ीं हो जाएगी हमारी जानकारी के अनुसार Walmart, Flipkart की हिस्सेदारी के लिए प्राइमरी और सेकेंड्री शेयर्स खरीद सकता है, जिससे इस भारतीय कंपनी की कीमत करीब 21विलियन डॉलर्स हो जाएगी.

बीच में अमेजन क्‍यों आ गयी?

क्योंकि Walmart Amazon का सबसे बड़ा प्रतिद्वंदी है इसलिए वो नहीं चाहती की Walmart और Flipkart एक हों क्योंकि Flipkart का इंडिया में काफी बड़ा मार्केट है ऐसे में अगर दोनों एक होते हैं तो Amazon को फ्यूचर में समस्या झेलना पढ़ सकता है. इसलिए Amazon बीच में आकर खुद Flipkart को खरीदने की कोशिश करने लगी है.

क्या फायदा होगा Flipkart को भी

अगर Flipkart और Walmart एक होते हैं तो इससे Flipkart को भी फायदा पहुंचेगा उसे ग्रॉसरी सेगमेंट में बड़ा बूस्‍ट मि‍लेगा. इस सेक्‍टर में पूरी की पूरी वि‍देशी प्रत्‍यक्ष निवेश (एफडीआई) की मंजूरी है. Flipkart अपने फूड और ग्रॉसरी बि‍जनेस पर अपना व्यापार बढ़ा सकती है और Walmart के साथ पार्टनरशि‍प करने पर कंपनी के लि‍ए भी बहुत फायदा पहुँच सकता है और तो और Flipkart को जेट.कॉम प्राइजिंग स्‍ट्रैटजी का भी फायदा मिल पायेगा.

देखते हैं अब Flipkart क्या डिसिशन लेती है.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here