आँखों का इलाज अदभुत मंदिर में – वैज्ञानिक तर्क भी फेलऐसा माना जाता हैं की आँखों में कोई बीमारी होने पर अगर शिकारी देवी माता को बनावटी आँख चढ़ाई जाए तो आखों की बीमारी ठीक हो जाती हैं. लाखों लोग हर साल आँख ठीक होने पर शिकारी माता को चांदी के आँखे चढ़ाते हैं. शिकारी देवी का मंदिर हिमाचल की मंडी  में २८५० फिट की ऊंचाई पर हैं. यह मंदिर आज भी लोगों के लिए रहस्य का विषय बना हुआ हैं. पुरानी मान्यता ये भी हैं की मारकेंडेय ऋषि ने सालों तक यहाँ तपस्या भी की थी. उन्हीं की तपस्या से खुश होकर माँ दुर्गा अपनी शक्ति के रूप में यहाँ स्थापित हुईं. एक और मान्यता ये भी हैं की पांडवो ने यहाँ अज्ञातवास के काल में तपस्या भी की थी.

अगर सच में हैं ऐसा मंदिर तो सभी को दर्शन करने जाना चाहऐ

अगर सच में हैं ऐसा मंदिर तो सभी को दर्शन करने जाना चाहए. इससे आँखों की रौशनी तो आएगी ही आएगी साथ ही साथ उपचार के लिए किसी भी अस्पताल में नहीं जाना पड़ेगा. हमें ऐसे धार्मिक स्थलों के बारे में पता होना चाहीये. अगर ऐसा विश्वास हैं की यहाँ आने से आँखों की रौशनी ठीक हो जाती हैं तो अवश्य इस मंदिर के दर्शन सबकों करना चाहिये. पहला मुफ्त में आँखों का इलाज हो जाएगा और दूसरा लोगों को इस मंदिर के शुभ दर्शन भी हों जाएंगे.

और अगर दावा वैज्ञानिक तर्क fail होने का हैं तो एक बार दर्शन के लिए सभी लोग आतुर होंगे. सच तो ये हैं बहुत सारे लोगों कों इस मंदिर के बारे में अभी तक पता नहीं हैं.लोगों को ये ज्ञात कराना और ये बताना हैं की ये मंदिर हिमाचल में हैं. यहाँ दर्शन करने जरुर आए. क्या इसे आप अन्धविश्वास नहीं कहेंगे? कैसे कह सकते हैं कि विज्ञान भी इस बारे में अब तक पता नहीं लगा पाया हैं. ये विश्वास हैं सबलोगों का. ये विश्वास हैं सदियों का.

प्रमुख बिंदु इस प्रकार हैं:-

  • अदभुत मंदिर जहाँ वैज्ञानिक तर्क भी हैं fail.
  • पांडव भी पुराने समय में रह चुके हैं इस मंदिर में.
  • आखों की रौशनी हों जाती हैं ठीक.

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here