आंध्र सरकार ने मोदी सरकार को दी चुनौतीAndhra pradesh govt चंद्रबाबू नायडू ने एक विशेष तरह की परियोजना पर काम कर रही है, जिसके जरिए वह केवल 149 रुपये में राज्य के हर घर मे इंटरनेट, वाईफ़ाई और टीवी सेवा मुहैया कराएगी.क्या Andhra Pradesh govt ने  इससे Modi govt  को  चुनौती नही दी?. राज्य सरकार ने इस परियोजना के लिए फेसबुक (इंडिया) के साथ विशेष Collaboration किया है. इस संबंध में Andhra pradesh के आईटी मंत्री नारा लोकेशन ने फेसबुक इंडिया की कनेक्टिविटी पॉलिसी हेड अश्विनी राना से हाल ही में मुलाकात की थी. इस परियोजना के लिए दोनों के बीच सहमति बन गई है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, परियोजना के तहत फाइबर ग्रिड के माध्यम से लोगों को यह सुविधा मुहैया की जाएगी. जहां से एक ही कनेक्शन से लोग वाईफ़ाई, इंटरनेट और टीवी सेवा का आनंद लें सकेंगे. इसके लिए उन्हें सिर्फ 149 रुपये का भुगतान किया जाएगा. क्या Andhra Pradesh govt challenge कर रही है  Modi govt को? अभी तक तो ऐसा ही लगता है.पर Andhra Pradesh govt ऐसा क्यों करेगी.

Andhra Pradesh state govt  ने इस तरह की कई अन्य पायलट परियोजना  शुरू की हैं. सरकार का ये प्रयास है की हर घर में 100 एमबीपीएस की गति के साथ इंटरनेट बहुत कम कीमत पर उपलब्ध कराया जाए. जो कि रुपये 14 9 है. इसका पहला चरण 2016 में लॉन्च किया गया था. Andhra Pradesh govt एक और तकनीकी प्रसिद्ध कंपनी के साथ जुड़ी है जिसका नाम है सिस्को. यह योजना राज्य के तीन जिलों में चल रही है. जिलों में विशाखपट्टनम, शिरकालम और विजयनगरम हैं. अगर Andhra Pradesh govt ने Modi govt  को चुनौती दी, तो क्या मोदी सरकार इसका ध्यान  रखेगी ? ताकि आगे कदम उठा सकें.

Modi govt के लिए यह योजना भी उल्लेखनीय हो सकती है

Modi govt के लिए यह योजना भी उल्लेखनीय हो सकती है. भारत में डिजिटल भारत को बढ़ावा देने के लिए, अगर केंद्र सरकार इतनी सस्ती दर पर इंटरनेट और टीवी प्रदान करती है, तो लोगों  बहुत ही आराम मिलेगा. केवल आराम ही नहीं बल्कि उन्हें बहुत कम पैसा भी देना पड़ेगा. नहीं, अगर Andhra govt ने Modi govt को चुनौती दी, तो इसे देश के किसी भी हिस्से में एक नई Discovery के तौर पर ले. यह लोगों के लिए उपयोगी है और सहायक भी होगा आने वाले समय मे. इसके बाद देश की सभी हिस्सों में सरकार इसका कार्यान्वयन करके अपनी जिम्मेदारी साबित करे. यह भी नई जानकारी प्राप्त करने और देश के दूसरे हिस्से में भी ये जानकारी . क्या यह लंबे समय तक Andhra pradesh के लोगों के लिए सहायक होगा, या केवल थोड़े समय के लिए?

यह योजना और प्रौद्योगिकी जो लोगों के सपने को पूरा करेगी एक ही पंक्ति में एक ही पृष्ठ पर प्रत्येक और सभी को जुड़ने  का सपना भी है

यह योजना और प्रौद्योगिकी जो लोगों के सपने को पूरा करेगी एक ही पंक्ति में एक ही पृष्ठ पर प्रत्येक और सभी को जुड़ने  का सपना भी है. क्या Modi govt जो Digitalisation का इतना नारा देती है, क्या कदम उठाएगी ?, जो हर किसी के लिए मददगार साबित होगा? सबसे पहले और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इस बारे में जनता जानती है या नहीं? यदि इस तकनीक के बारे में पता नही चलेगा तो लोग जागरूक कैसे होंगे. उन्हें इसके बारे में पता चल जाएगा अगर उन्हें पता चल जाएगा तो वे अपने बीच में इसे फैलायेंगे और जिसके कारण पूरे देश को इस तकनीक के बारे में पता चल जाएगा. जैसे ही सरकार को एस बारे मे पता चलेगा. जितनी जल्दी हो सके, उतनी ही  जल्दी इसे अमल मे  लाना चाहिए. क्या  Andhra govt ने Modi govt को पीछे  कर दिया है?

आने वाले साल Digitalisation का  जमाना होगा

आने वाले साल Digitalisation का  जमाना होगा. जमाना जो विभिन्न सपनों के विस्तार का निर्णय लेगी, जो कि प्रौद्योगिकी  को आगे बढ़ाएगी. लोग दिन-दिन उन्नति की तरफ जा रहे हैं. विशाल दुनिया इंटरनेट का है, वाईफ़ाई का है  जिस पीढ़ी में हम जीवित हैं. पिछली पीढ़ी में बहुत अधिक असमानता है  विचारों की , भावनाओं की , संस्कृति की  सब कुछ में मतभेद है . लेकिन सोच आगे बढ़ने की  जितना हो सके उतना बढ़ाना होगा. यहां तक कि कल  की खबर पुरानी हो गई है . इसलिए, इंटरनेट आवश्यक है, वाईफाई की आवश्यक होगी.  कब मोदी सरकार इसे लागू करेगी?

ये भी सच है ये सारी चीज़े एक दिन मे या किसी एक राज्य मे पालन होने से नही होगा हम चलते रहना होगा केवल और केवल आगे की तरफ. क्या Modi govt इस आज के पीढ़ी को इस उभरते हुए ज़माने को एक ही पटरी पर ला पायेगी. अगर ऐसा करने मे सफल हुई तो बहोत बड़ी उपलब्थि होगी.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here