बॉल टेंपरिंग केस में दोषी स्टीवन स्मिथ मीडिया के सामने आए और सवालों का जवाब देते हुए फूट-फूट कर रो पड़े. स्टीवन स्मिथ ने इसे अपने करियर की सबसे बड़ी गलती बताया. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के सभी क्रिकेट फैंस से माफी मांगी. उन्होंने कहा कि ये मेरी कप्तानी की सबसे बड़ी नाकामी है.

स्टीवन स्मिथ ने कहा,’मैं अपनी इस भूल को स्वीकार करता हूं, मैं इस गलती पर हमेशा पछताता रहूंगा. स्टीवन स्मिथ ने रोते हुए कहा, ‘ये मेरी नजर में ऑस्ट्रेलिया की ओर से पहली बॉल टेंपरिंग की घटना थी मैं आप लोगों को भरोसा देता हूं कि अब ऐसा कभी नहीं होगा.’

बच्चों को दिया मैसेज

स्टीवन स्मिथ ने उन बच्चों को भी मैसेज दिया जो उन्हें पसंद या फॉलो करते हैं. स्मिथ ने कहा, ‘मैं सभी बच्चों से माफी मांगता हूं. मैं क्रिकेट को पसंद करता हूं. इस दर्द के लिए मैं पूरे ऑस्ट्रेलिया से माफी मांगता हूं.’

साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट में बल्लेबाज बेनक्रॉफ्ट बॉल टेंपरिंग करते हुए कैमरे में कैद हुए थे. इस कांड के बाद कप्तान स्टीवन स्मिथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बयान दिया था कि उन्होंने इसकी प्लानिंग की थी. इसमें स्टीवन स्मिथ के साथ डेविड वॉर्नर भी शामिल थे. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने जांच के बाद इन तीनों ही खिलाड़ियों को साउथ अफ्रीका से ऑस्ट्रेलिया वापस भेज दिया और अब इन दोनों पर 1 साल का बैन भी लगा दिया. वहीं बेनक्रॉफ्ट को 9 महीने बैन की सजा मिली.

स्टीवन स्मिथ को राजस्थान रॉयल्स की कप्तानी से हटाने के साथ-साथ आईपीएल से भी बर्खास्त कर दिया गया. इसके साथ-साथ वो अब भारत के खिलाफ इसी साल के आखिर में होने वाली सीरीज में भी नहीं खेल पाएंगे.

डेविड वार्नर ने भी चुप्पी तोड़ी

बल्लेबाज़ डेविड वार्नर ने बॉल टेम्परिंग प्रकरण के बाद पहली बार अपनी चुप्पी तोड़ते हुये आस्ट्रेलियाई क्रिकेट को कलंकित करने के लिये देशवासियों और प्रशंसकों से माफी मांगी है. वार्नर ने ट्विटर पर अपनी मन की बात रखी. उन्होंने गेंद के साथ छेड़छाड़ मामले में पहली बार चुप्पी तोड़ते हुये लिखा” दुनिया भर और आस्ट्रेलिया के क्रिकेट प्रशंसकों, मैं फिलहाल सिडनी पहुंचने वाला हूं. हमने गलती की जिसने क्रिकेट को नुकसान पहुंचाया है.

“उन्होंने लिखा”मैं इस मामले में अपनी गलती को स्वीकारता हूं और इसकी जिम्मेदारी लेता हूं. मैं जानता हूं इससे क्रिकेट और प्रशंसकों को काफी दुख पहुंचा है. यह उस खेल को कलंकित करने जैसा है जिसे मैंने अपने बचपन से प्यार किया है. मैं अब लंबी सांस लेना चाहता हूं और अपने परिवार, दोस्तों तथा सच्चे सलाहकारों के साथ समय बिताना चाहता हूं. मैं अगले कुछ दिनों में आपसे बात करूंगा.” सीए ने तीनों दोषी खिलाडिय़ों को तुरंत स्वदेश लौटने के लिये कह दिया था.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here