देल्ही पुलिस की एनकाउंटर टीम ने हाल ही में एक संदेही फरार आतंकी जुनैद को गिरफ्तार किया है.  माना जाता है कि वह कम से कम पांच बम धमाको में शामिल रहा है. न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, टेररिस्ट की पहचान फरार आतंकी जुनैद के रूप में की गयी है. जो कि २००८ की बटला हाउस मुठभेड़ के बाद से ही फरार था. एक सीनियर अधिकारी के मुताबिक आतंकी जुनैद को देल्ही पुलिस की विशेष सेल ने गिरफ्तार किया है.

माना जाता है बटला हाउस एनकाउंटर के समय आतंकी जुनैद अपने तीन साथी के साथ मौजूद था, और किसी तरह से भागने में सफल हो गया था.  इस मुठभेड़ में एनकाउंटर इस्पेसिलिस्ट श्री मोहनचंद शर्मा भी शाहिद हो गए थे.

कुछ तथ्य

स्त्रोतों के अनुसार, बटला हाउस एनकाउंटर में दो संदिग्ध आतंकी मारे गए थे. शहजाद गिरफ्तार हुआ था जब कि आतंकी जुनैद भागने में सफल हुआ था. ये सभी आतंकी उत्तर प्रदेश के आजमगढ जिले से थे.

यह मुठभेड़ देल्ही सीरियल ब्लास्ट के कुछ समय बाद घटित हुई. इस मुठभेड़ में २६ लोग मारे गए थे जब की १०० लोग घायल हुए थे.

पुलिस ने स्वीकार किया था कि उसके पास इंटेलिजेंस रिपोर्ट थी की कुछ संदिग्ध आतंकी बटला हाउस फ्लैट में छुपे हूए है, जो कि मुठभेड़ में शामिल थे.

मोहन शर्मा एक एनकाउंटर स्पेसिलिस्ट एवं एक देल्ही पुलिस के सबइंस्पेक्टर इस मुठभेड़ में शहीद हो गए थे. परन्तु कूछ् राजनैतिक लोगो एवं सामाजीक कार्यकर्ताओं ने इस मुठभेड़ की विश्वसनीयता पर संदेह व्यक्त किया था.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here