उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज गाजियाबाद में पहली एलिवेटेड रोड का उद्घाटन करेंगे. ये 6 लेन की एलिवेटड रोड यूपी गेट से सीधा राजनगर एक्सटेंशन को जोड़ेगी इसके साथ ही शहर के लिए 1700 करोड़ के विकास कार्यों का ऐलान भी करेंगे. यहां योगी आदित्यनाथ रैली को भी संबोधित करेंगे. बता दें कि इस एलिवेटेड रोड के उद्घाटन के बाद इसे आम जनता के लिए शुक्रवार से ही शुरु कर दिया जाएगा. जिससे दिल्ली से मेरठ जाने वाले यात्रियों को जाम की समस्या से छुटकारा मिलेगा.

गाजियाबाद से दिल्ली महज 15 मिनट

यहां तक की इस रोड से आप गाजियाबाद से दिल्ली मात्र 15 मिनट में जा सकेंगे . और ये भी है कि रात में आपको एलिवेटिड रोड डेढ़ किलोमीटर दूर से ही दिखाई दी जाने लगेगी. इस एलिवेटिड रोड पर चढ़ने के लिए एक एंट्री गेट तैयार किया गया है, जिसमें रेट्रो रिफ्लेक्टिव हाई क्वॉलिटी शीट्स लगाई गईं हैं, जिन पर गाड़ी की लाइट पड़ते ही यह दिखने लगेंगी. बता दें ये जो शीट्स है वे जंग रोधी हैं. इन्हें बार-बार रिपेयर की जरूरत नहीं पड़ती है. इन शीट्स का रंग गुलाबी और हरा रखा गया है.

एलिवेटेड रोड पर तीन कि.मी. सफर करेंगे

योगी आदित्यनाथ एलिवेटेड रोड पर आज सफर भी करेंगे. जीडीए अधिकारियों का कहना है कि उद्घाटन के बाद मुख्यमंत्री को तीन किलोमीटर तक एलिवेटेड रोड का सफर कराया जाएगा. बीच में लगे अस्थायी डिवाइडर हटा दिया गया है.

मुख्यमंत्री सात माह बाद आज फिर गाजियाबाद में

पिछले सात महीने में तीसरी बार गाजियाबाद आ रहे योगी आदित्यनाथ. पिछले साल के विधानसभा चुनाव प्रचार को भी अगर हम  शामिल करें तो यह उनका चौथा दौरा होगा. विधानसभा चुनाव में योगी आदित्यनाथ ने साहिबाबाद और खोड़ा में चुनावी रैलियां की थीं. मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार योगी आदित्यनाथ पिछले साल 31 अगस्त को कैलाश मानसरोवर भवन का शिलान्यास करने आए थे.

इसके ढाई महीने बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 18 नवंबर को स्थानीय निकाय चुनाव में भाजपा के लिए प्रचार करने आए थे. योगी आदित्यनाथ ने अपने पहले दौरे के दौरान विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की थी. उस दौरान उन्होंने पुलिस और अधूरे निर्माण कार्यों पर असंतोष जताते हुए अफसरों की फटकार लगायी  थी. साथ ही अधूरे कार्य शीघ्र पूरे करने के निर्देश दिए. इसी को ध्यान में रखकर अधिकारियों के होश फाख्ता हैं.

इस प्रोजेक्ट की शुरुआत अखिलेश सरकार में शुरू की गई थी

इस प्रोजेक्ट का कुल बजट 1171 करोड़ रुपये था जिसक शुरुआत अखिलेश सरकार में शुरू हुई थी. हाँ पर अब इसके निर्माण पर 1248 करोड़ की लागत लगी है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक ये सड़क सिंगल पिलर पर बनने वाली देश की सबसे बड़ी एलिवेटेड सड़कों में से एक है. योगी के अलावा इस कार्यक्रम में गाजियाबाद के सांसद वीके सिंह, यूपी सरकार में मंत्री श्रीकांत शर्मा के साथ कई स्थानीय नेता भी मौजूद रहेंगे योगी के साथ रहेंगे .

यह देश की सबसे लंबी (10.30 किमी) एलिवेटेड रोड है. चंडीगढ़, नोएडा और बंगलुरु शहर में एलिवेटेड रोड की लंबाई गाजियाबाद से कम है.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here