देसी ड्रिंक्स पिलाएगी Coca Cola
देशी ड्रिंक्स पिलाएगी Coca Cola

Coldrink बनाने वाली कंपनी Coca-Cola देश में अपने कारोबार का विस्तार करने में जुटी है. कंपनी का अगले कुछ सालों में अपने प्रॉडक्ट पोर्टफोलियो के दो-तिहाई हिस्से को देशी बनाने का विचार है. इसके तहत Coca-Cola देशी पेय पदार्थ और फलों का जूस पेश करने जा रही है.

 

देसी ड्रिंक्स पिलाएगी Coca Cola
Coca Cola अध्यक्ष टी. कृष्णकुमार

गर्मी आने से पहले ही पेय पदार्थ बनाने वाली कंपनियां अपनी Planing में लग गई है. Coca-Cola ने भी भारतीय बाजार के लिए अपना नया Plan तैयार किया है. दुनिया की मशहूर Soft drink निर्माता कंपनी Coca-Cola अपने प्रॉडक्ट्स के साथ कई तरह के एक्सपेरिमेंट करती रहती है. कंपनी ने अपने 125 साल के इतिहास में मार्केट में कई तरह के नए प्रॉडक्ट्स उतारे हैं. Coca Cola इंडिया और दक्षिण-पश्चिम एशिया के अध्यक्ष टी. कृष्णकुमार ने कहा कि हमारा विचार है कि एक अवधि के बाद हमारे पास एक-तिहाई वैश्विक उत्पाद हों और दो-तिहाई ऐसे उत्पाद हों, जो कि स्थानीय  टेस्‍ट और जरूरतो पर आधारित हों.

वर्तमान में Coca Cola के करीब 50 प्रतिशत पेय पदार्थ भारत में तैयार किये और बेचे जाते हैं, जिनमें थम्सअप, लिमका, माजा जैसे स्थानीय ब्रांड शामिल हैं. कुमार ने देशी पेय पदार्थ पेश करने की योजना का जिक्र करते हुए कहा, ‘हमने महसूस किया कि हर राज्य का एक विशेष पेय पदार्थ है. हमारी कोशिश हर राज्य में एक या दो ऐसे उत्पादों की पहचान करना है. उदाहरण के लिए हम नारियल पानी पर विचार कर रहे है. हमारा मानना है कि इसमें कुछ ऐसे हैं, जो महत्वपूर्ण हैं। कंपनी अगले तीन साल में देशी पेय पदार्थ श्रेणी में नए उत्पाद पेश करेगी.

कंपनी का Plan  क्या है

देसी ड्रिंक्स पिलाएगी Coca Cola
देसी ड्रिंक्स पिलाएगी Coca Cola

Coca-Cola इंडिया और दक्षिण-पश्चिम एशिया के अध्यक्ष टी कृष्णकुमार ने कहा कि हमारा विचार है कि एक अवधि के बाद हमारे पास एक-तिहाई वैश्विक उत्पाद हों और दो-तिहाई ऐसे उत्पाद हो, जोकि स्थानीय उत्पादों पर आधारित हों.

खास बातें

  • Coca-Cola ने भारतीय बाजार के लिए नया Plan तैयार किया.
  • देश में अपने कारोबार का विस्तार करने की योजना बना रही है कंपनी.
  • प्रोडक्ट पोर्टफोलियो के दो-तिहाई हिस्से का लोकलाईजेशन करने पर विचार.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here