गढ़चिरोली मुठभेड़ – 37 नक्सली ढेर

0
423
गढ़चिरोली मुठभेड़ - 37 नक्सली ढेर
37 naksali dher

नक्सलियों के मारे जाने की खबर आज कल बहुत तादाद में मिल रही है. ऐसी ही वारदात गढ़चिरोली मुठभेड़ में हुई. गढ़चिरोली जो की महाराष्ट्र में है, ताड़गांव के जंगल में रिपोर्ट की माने तो 16 नक्सली को मारे जाने की पुष्टि की गई है. इसके बाद ये ही नही महाराष्ट्र पुलिस ने बीते सोमवार की शाम जिमलगाट्टा इलाके के राजाराम खंडाला में इसके बाद 21 नक्सली को ढेर कर दिया,जिसमे 15 के शव बरामद हुए है. रिपोर्ट की माने तो अब तक 37 नक्सलियों के मारे जाने की पुष्टि हुई है.

क्या था कहना इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस का :-

शरद शेलर जो की इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस है उनका कहना था ताड़गाँव में सफलता मिलने के बाद और इलाके में उच्च कोर नक्सलियों के मौजूद होने की सुचना को लेकर सोमवार को भी खोजबीन चलती रही. रिपोर्ट की माने तो जिले के 60 सी कमांडर खोजबीन में जुटे हुए थे. जवान जैसे ही राजाराम खंडाला में पहुंचे पहले से ही घात लगाए नक्सलियों ने फायरिंग करनी शुरू कर दी. करीब 1 से डेढ़ घंटे तक चली इस गोलीबारी में जवान नक्सलियों मप्र भारी होते हुए दिखे,जिसका मौका देखकर नक्सली भाग खड़े हुए.

गढ़चिरोली मुठभेड़ - 37 नक्सली ढेर
37 naksali dher

आईजी ने की जवानों की प्रशंसा :-

महाराष्ट्र के आईजी सतीश माथुर ने घटना में हुए जवानों के जवाबी हमले की तारीफ और उन्होने कहा लगातार दुसरे दिन बड़ी सफलता मिली है. उनका कहना था टीम अभी लौटी नही है और अभी शव भी मिल सकते है. उनका आगे कहना था बारिश की वजह से इतनी मुश्किल आ रही है.

कम हो रहा नक्सलियों का प्रभाव :-

गौरतलब है कि महाराष्ट्र पुलिस कुछ दिनों से राज्य के नक्सल प्रभावित इलाकों में नक्सलियों के खिलाफ विशेष अभियान चला रही थी. इस इलाके में ग्रामीणों और नक्सलियों के बीच अक्सर संघर्ष की खबरें आती हैं, इसलिए इलाके से नक्सलियों के सफाए के लिए पुलिस की तरफ से यह अभियान दो दिनों से चला आ रहा था.

ऐसा कहा जा रहा है कि देश में नक्सली गतिविधियों में कमी आई है और नक्सलियों का इलाका भी घटा है. देश के नक्सल प्रभावित 126 जिलों में से सरकार ने 44 जिलों को वैसे तो नक्सल मुक्त क्षेत्र घोषित कर दिया है. हालांकि, 8 नए जिले नक्सल प्रभावित इलाके में भी शामिल किए गए हैं. सबसे ज्यादा नक्सल प्रभावित जिलों की संख्या 35 से घटकर 30 तक रह गई है. बिहार और झारखंड के 5 जिले ज्यादा नक्सल प्रभावित  क्षेत्र से मुक्त हो गए हैं.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here