हवन में जवा और तिल ही क्यों उपयोग किये जाते है
हवन में जवा और तिल ही क्यों उपयोग किये जाते है

हम अनेको यज्ञ करते है हवन करते है. क्या हमने कभी ये सोचने की कोशिश की है हवन में हमे किन-किन चीजों को साथ लेकर पुजा करनी चाहिए और साथ ही साथ हवन में जवा और तिल ही क्यों उपयोग किये जाते है. अगर आपको नही पता पता तो कोई बात नही हम आपको आज विस्तार से बताएँगे की आप हवन में जवा और तिल का उपयोग क्यों और किसलिए करें.

आइए पहले जानते है तिल का उपयोग ?

आधी रात में डरावने सपने के कारण आपको आधी रात में जाग जाना पड़ता है. ऐसा कहा जाता है क्यूंकि पुराने समय में किये गये कर्मो की वजह से और उनके आधार पर ल्लोगो को सपने अच्छे और बुरे आते है. इससे निजात पाने के लिए आपको काले तिल का हवन करना चाहिए जिससे नकारात्मक उर्जा का विनाश होता है और साथ ही साथ पॉजिटिव उर्जा का निवास होता है.

तिल को अच्छे सूत्र का मानक बताया गया है. तिल को घर में रखने से नयी उर्जा का वाश होता है. इससे घर मे समृधि कायम रहती है. इससे नए उर्जा का संचार के साथ ही साथ आस पास के बुरे प्रभावों से भी मुक्ति मिलती है. तिल में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते है जैसे विटामिन ए जो की तनाव मुक्ति में सहायक सिद्ध होते है. तिल का त्वचा पर गहरा प्रभाव पड़ता है जिससे त्वचा पर नमी बरकरार रहती है. तिल में कई तरह के मस्पेशियों में सहायक जैसे कैल्शियम,आयरन जैसे पाए जाने वाले शरीर के और मांसपेशियों के सहायक होते है.

जव के यज्ञ और हवन में प्रयोग :-

भारतीय परंपरा में शादी और फेस्टिवल में अनाज की साथ संबंध बेहद ही खास रहा है. हिन्दू धर्मं में वही जवा का बड़ा अधिक मना गया है. धार्मिक अनुष्ठानो ने वर्ष के सुभ समय में होली में इन सभी फेस्टिवल में बिना जव के कोई कायर समाप्त ही नही हो सकता है. इसी तरह होल्क के आग से निकलने वाली हलकी लपटों में जव की हरी कच्ची बाली को आंच दिखाकर रंग खेलने के बाद भोजन करने से लेकर जवा को पहले खाकर नव वर्ष की शरुआत की जाती है. जव का उपयोग बेटियों के साथ होने वाले द्वारचार में भी किया जाता है.

घर की महिलाएं वार पक्ष को अपने चौखट पर मंगल गीत गाकर स्वागत करती है तो वही बिना जव के ये कार्य सम्पादित नही किये जा सकते है. जव इसलिए भी खास माना जाता है क्यूंकि प्राचीन कल में सबसे पुराने अनाज के तौर पर जव की खाती सदियों पुराने कल से होती है और अनेको संस्कारो में भी जव की सहायता से ही पुजा शरू और खत्म भी होती है.

यदि आपको विशिष्ट वस्तु की आहुति देनी है क्युकी आपको सुख समृधि चाहिए आपको पाना है तो. हवन में अलग-अलग तरह की सामग्री की इस्तमाल किया जाता है  इसमे जव मे महतव्पूर्ण है. कामना के अनुसार कोई समाधी हो या फिर मौसम को लेकर समाधी हो. हर तरह की समाधी के लिए आपको वस्तु की आहुति देनी होती है.

प्रमुख बिंदु :-

  • जाने हवन में जवा और तिल का क्यों होता है उपयोग?.
  • जाने तिल और जवा कैसे है मददगार?.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here