हम हैं सबसे बड़े खरीददार - भारत एक मजबूत रक्षा उत्पादन उद्योग का निर्माण करने में असफल रहने से यह सुनिश्चित हो गया हैं कि भारत 2013-2017 से वैश्विक आयात के 12% के हिसाब से दुनिया के सबसे बड़े हथियार आयातक होने  में लगा हुआ हैं. सोमवार को ग्लोबल थिंक टैंक स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट द्वारा जारी अंतरराष्ट्रीय हथियार हस्तांतरण के आंकड़ों के मुताबिक, भारत द्वारा हथियार आयात 2008-2012 और 2013-2017 के बीच में 24% की वृद्धि हुई.

भारत के बाद सऊदी अरब, मिस्र, संयुक्त अरब अमीरात, चीन, आस्ट्रेलिया, अल्जीरिया, इराक, पाकिस्तान और इंडोनेशिया के स्थान दुनिया के शीर्ष हथियारों के आयातक में से हैं. 2013-2017 से भारत के सबसे बड़े हथियार आपूर्तिकर्ता रूस (62%), अमेरिका (15%) और इज़राइल (11%) रहे हैं.

भारत रूस और इसराइल से हथियारों का सबसे बड़ा खरीदार  बीते दिनों बना हैं

बीते दिनों भारत रूस और इसराइल से हथियारों का सबसे बड़ा खरीदार बना हैं. अमेरिका, चीन के बढ़ते प्रभाव का सामना करने के लिए अपनी विदेश नीति के हिस्से के रूप में, भारत को सैन्य बिक्री में सहायक सिद्ध हो रहा हैं. सन 2008-2012 और 2013-2017 के बीच भारत ने अमेरिका से 15 अरब डॉलर के हथियारों की खरीदारी की. अमेरिका ने इन आंकड़ो के साथ कुछ वर्षों में रूस को भी आयात के मामले में पीछे छोड़ दिया है.

SIPR ने अपने हिस्से में कहा, “हथियार स्थानान्तरण को अक्सर अमेरिकी रणनीतिक साझेदारी का रूप देने के लिए अमेरिकी विदेश नीति को उपकरण के रूप में उपयोग किया जाता हैं. उदाहरण के लिए, एशिया और ओशिनिया में चीन के बढ़ते प्रभाव को ऑफसेट करने के अपने प्रयासों के तहत, अमेरिका ने भारत के साथ अपने संबंधों को मजबूत किया हैं, 2008-2012 और 2013-2017 के बीच भारत में इसके हथियार वितरण 557% बढ़ गए हैं. “

चीन, अमेरिका, रूस, फ्रांस और जर्मनी के बाद दुनिया के शीर्ष पांच हथियारों के निर्यातक देशो के बीच एक मजबूत रक्षा-औद्योगिक आधार (DIB) को तैयार करने की अपनी व्यवस्थित निति के साथ चल रहे हैं. चीन का सबसे बड़ा ग्राहक पाकिस्तान हैं, जो अपने निर्यात का 35% और बांग्लादेश (19%) को देता हैं. बहरहाल, भारत, नेशनल डीआईबी से साझा करता हैं. सशस्त्र बलों ने अपनी आवश्यकताओं का  65% विदेशों से सोर्सिंग की हैं.

प्रमुख बिंदु :-

  • सबसे बड़ा खरीददार हैं भारत.
  • हथियार खरीदी में 557% की हुईं वृद्धि.
  • रूस को पीछे छोड़ा अमेरिका ने.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here