इण्डिया के इस इस मंदिर से फेसबुक और एप्पल के मालिक की किस्मत खुली
इण्डिया के इस इस मंदिर से फेसबुक और एप्पल के मालिक की किस्मत खुली

जी हाँ आपने सही सुना. चाहे अगर हम बात करें अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की चुनाव प्रचार अभियान के दौरान इनकी जेब से और सामानों के अलावा हनुमान भगवान की मुर्ति निकली थी. ये मुर्ति उनके पास सालों से थी. इनके साथ-साथ आप दो बड़े नाम और जोड़ लीजिए वो है फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग और एप्पल के फाउंडर स्टीव जॉब्स. जाने कौन सा है मंदिर

हनुमान एक ऐसे देवता है जो अपने रंग,रूप के चलते पूरी दुनियाँ में फेमस हुए. बात ये है किसी दौर मै इन दोनों ने अध्यात्म की राह पर चलने के लिए भारत के एक हनुमान मंदिर का दर्शन किया था. मंदिर के दर्शन करने ऐसे समय पर गये थे जब जुकरबर्ग लगातार फेसबुक से मात खा रहे थे. यहाँ जुकरबर्ग और स्टीव जॉब्स शांति के लिए आए थे.

कौन से हनुमान मंदिर के आए थे दर्शन करने ?

ये मंदिर है उतराखंड में नीम करोली बाबा आश्रम का हनुमान मंदिर है. लोग बहुत दूर-दूर से इस मंदिर में आते है. ये आश्रम कभी नीम करोली बाबा ने बनवाया था. नीम करोली को हनुमान भगवान का अवतार भी कहा जाता है. यही है वो मंदिर जहाँ फेसबुक और एप्पल जैसी बड़ी और ब्रांडेड कंपनी के किस्मत का ताला खुला था. ऐसा कहा जाता है की नीम करोली बाबा ने अपने जीवनकाल के दौरान देश और दुनियाँ में करीब 108 हनुमान मंदिर और आश्रम बनवाएं.

जुकरबर्ग ने ऐसा क्या खोला राज ?

बात तब की है जब नरेन्द्र मोदी 2015 में अमेरिका दौरे पर गए थे. तभी वे फेसबुक के दफ्तर भी गए. यही वों समय था जब मार्क जुकरबर्ग ने राज खोला. उन्होने नीम करोली के बारे में और वहां की यादों के बारे में बात बताई. जुकरबर्ग की माने तो जब वे बुरे दौर से गुजर रहे थे तब उन्होने अध्यात्मिक शांति के लिए इस आश्रम  में सरण ली थी.

इस आश्रम का पता एप्पल के फाउंडर रहे स्टीव जॉब्स ने बताया था. जुकरबर्ग का कहना था स्टीव जॉब्स का कहना था की कंपनी को लेकर अगर उनकी योजनाओं को फिर से एकत्रित करना या Reconnect करना है तो उन्हें नीम करोली आश्रम जाना चाहिए और वहाँ एक महीने रुकना चाहिए.

जुकरबर्ग की माने तो ये वही जगह थी जगह थी जहाँ स्टीव जॉब्स को जिंदगी के कई अलग मायने समझ आए जिसके फलस्वरूप एप्पल को एक नयी उच्चाईयों में ले जाने में सफल हुए. एप्पल के फाउंडर इसी जगह 1970 में आए थे. खबर की माने तो हॉलीवुड एक्ट्रेस जूलिया भी इस मंदिर से बेहद खास जुड़ी रही.

प्रमुख बिंदु :-

  • आखिर कैसे जुड़ी है फेसबुक और एप्पल के मालिक की किस्मत इस मंदिर से?.
  • जाने क्या हुआ था ऐसा?.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here