BCCI अपने मैचों के टेलीकॉस्ट राइट्स के लिए पहली बार ई-नीलामी करने जायेगा. पहली बार ई-नीलामी के द्वारा इन मीडिया अधिकारों के लिए बोली लगेगी. भारतीय क्रिकेट टीम की घरेलू द्विपक्षीय क्रिकेट श्रृंखला के मीडिया अधिकारों के लिए आज स्टार, सोनी, जियो, फेसबुक और गूगल सहित छह कंपनियां ई- नीलामी के जरिए बोली लगाती नजर आएँगी.

यह ई-नीलामी 5 साल, अप्रैल 2018 से मार्च 2023 तक के लिए होंगी. भारत इस दौरान 102 इंटरनेशनल मैचों की मेजबानी करेगा. इनमें 22Test, 45oneday और 35T20 मैच शामिल होंगें. यह पुराने तरीके से मिडिया अधिकारों की नीलामी नहीं होगी इस बार यह ऑक्शन का रूप लेगी जिसमे वे कंपनिया बोली लगाएंगी जिन्हें मैच के दौरान मीडिया अधिकार चाहिए.

गुप्त नीलामी की जगह लेगी ई-नीलामी

इससे पहले BCCI गुप्त नीलामी या किसी को पता लगे बगैर ही मीडिया राइट्स बेचता रहा है. BCCI की प्रशासकों की समिति (सीओए) ने लोढ़ा समिति की सिफारिशों के आधार पर ई-ऑक्शन का फैसला लिया था. इस ऑक्शन में शामिल होने वाली कंपनियां ऑनलाइन यह देख सकेंगी कि बोली कहां तक पहुंची है. पर, वे यह नहीं जान पाएंगी कि किसने कितने कि बोली लगाई.

क्या टीम इंडिया के मैचों को आईपीएल के मैचों से ज्यादा कीमत मिलेगी

BCCI ने मीडिया राइट्स  को तीन अलग टाइप्स में बांटा है, पर सबसे बड़ा सवाल यह उठ जाता है की टीम इंडिया के हर मैच को आईपीएल के हर मैच से ज्यादा पैसा मिलेगा की नहीं ? इससे पहले स्टार इंडिया बोर्ड को प्रति मैच के लिए 43 करोड़ रुपए देता था. आईपीएल में 54 करोड़ रुपए प्रति मैच के हिसाब से स्टार ने अगले पांच साल के लिए मीडिया राइट्स खरीदे हैं. यानी निगाहें इसी बात पर है कि क्या टीम इंडिया के मुकाबलों को आईआपीएल के मुकाबलों के ज्यादा कीमत मिल पाएगी या नहीं.

स्टार ने पहले ही आईपीएल के मिडिया प्रसारण अधिकार 16,347 करोड़ रुपये में खरीदे हैं. स्टार के पास आईसीसी टूर्नामेंटों का भी अधिकार पहले से ही है, जिसमें विश्व टी20 ( पुरुष और महिला), पुरुष और महिला टीम के 50 ओवर के विश्व कप और चैंपियंस ट्राफी शामिलपहले से ही हैं.

BCCI ने फिक्स की हैं अपनी रिज़र्व प्राइस

इस ऑक्शन में BCCI ने पहले साल के लिए प्रत्येक मैच के 43 करोड़ की रिजर्व प्राइस फिक्स की है. इसमें टीवी के लिए 35 करोड़ और डिजिटल राइट्स के लिए 8 करोड़ बेस प्राइस शामिल हैं. दूसरे से पांचवें साल तक टीवी के लिए प्रति मैच 40 करोड़, जबकि डिजिटल राईटस के लिए 7 करोड़ रिजर्व प्राइस फिक्स की गयी हैं.

BCCI को अभी पिछले टीवी राइट्स के आधार पर हर मैच के लिए 43करोड़ मिल रहे थे पर अगर नीलामी आगे बढ़ती है, तो बोली लगाने वालों को पिछली बोली से 25 करोड़ ज्यादा की बोली लगानी होगी. अगर बोली सिर्फ टीवी के राइट्स के लिए है, तो यह प्राइस 20 करोड़ तक हो सकती है. इसी तरह सिर्फ डिजिटल राइट्स की हर बोली में कम से कम 5 करोड़ बढ़ते जाएंगे. अगर बीसीसीआई के रिजर्व प्राइस को आधार मानें, तो बीसीसीआई को करीब 4,134 करोड़ मिल सकते हैं.

दोपहर 2 बजे से शुरू होगी बोली प्रक्रिया शुरू

यह ऑक्शन ऑनलाइन पोर्टल के द्वारा किया जाएगा. जिसमे सभी दावेदार बोली लगाएंगे जो सबसे ज्यादा बोली लगाएगा उसे वो मीडिया राइट्स मिल जायेगा. इस बोली में हिस्सा लेने के लिए बड़ी बड़ी कम्पनियाँ हिस्सा लेंगी गूगल, फेसबुक समेत दुनिया भर की छह बड़ी कंपनियों ने इसके बिडिंग डॉक्यूमेंट्स खरीदे हैं. इनमें स्टार इंडिया, सोनी पिक्चर्स, रिलायंस जियो और यप टीवी भी शामिल हैं. यह ऑक्शन दोपहर दो बजे से शुरू होगा. इसमें 10 हजार करोड़ तक की बोली की उम्मीद की जा रही है.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here