IPL के किस सीजन में बने हैरतंगेज रिकार्ड्स पार्ट - 1
IPL के किस सीजन में बने हैरतंगेज रिकार्ड्स पार्ट – 1

आज हम आपको ऐसे IPL स्टार्स के बबरे में बताने जा रहे है जिन्होने ना केवल अपने अलग-अलग टीम में अच्छे प्रदर्शन के लिए जाने गए जबकि अपने प्रदर्शन से IPL को एक ऐतिहासक टूर्नामेंट बनाने में भी अहम किरदार निभाया. इन्होने अपने प्रदर्शन से लाखों करोड़ो लोगों का दिल भी जीता. आइए जानते है ऐसे ही कुछ स्टार्स के प्रदर्शन की कहानी.

मोहम्मद सिराज :-
सिराज की बात करें तो इनके पिता ऑटो रिक्शा चलाते थे. सिराज ने टेनिस बल के जरिए क्रिकेट की शरुआत की. अगर प्रॉपर क्रिकेट बाल की शरुआत करें तो इन्होने 2015 से खेलना शुरू किया. ये वही साल था जब सिराज ने रणजी के 9 मैच में 41 विकेट लिए और कीर्तिमान हासिल किया.

इनकी एक्यूरेसी बल डालने की बेहतरीन थी. जब ये 2017 के आईपीएल के ऑक्शन में आए तो इनका बेस प्राइस था 20 लाख. बिडिंग के बाद सिराज को Sunrisers Hyderabad ने 2.6 करोड़ में ख़रीदा. भारत की तरफ से इनका पदार्पण हो चुका है. इन्हें 3 मौके भी दिए गए है जिनपर अभी तक खरे नहीं उतर पाए है,लेकिन उम्मीद है आगे चलकर ये भारत का नाम रोशन करेंगे.

नथु सिंह :- नथु सिंह की बात करें तो ये IPL में कैसे आए. गली क्रिकेट में काफी सोहरत बटोर चुके है नथु. इनका बारे अगर जो सबसे पहली बात सामने आती है वो है की इनके पिताजी फैक्ट्री में काम करते थे. राजस्थान की तरफ से रणजी मैच खेलते हुए इन्होने 7 विकेट लिए. जिसके बाद आईपीएल ऑक्शन में मुंबई इंडियन ने 3.2 करोड़ में नथु को ख़रीदा.

केदार जाधव :-
छोटे से कद के केदार जाधव में असीम टैलेंट है. छोटे डिस्ट्रीक्ट माधा सोलेपुर महाराष्ट्र में है वह के रहने वाले है. इनका नाम सामने उभर कर 2012 में आय जब इन्होने ट्रिपल सेंचुरी जो 327 रन रणजी में बनाया. इसके साथ-साथ इन्होने 2013-14 अपने इसी फॉर्म को जारी रखा. 2013 में इन्होने IPL की तरफ से अपने पहले सीजन की शरुआत की. इन्होने दिल्ली daredevils ने आईपीएल की शुरुआत की. केदार ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण 2014 में किया. इस आईपीएल में केदार चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से खेलते नजर आएंगे.

मंजूर डर :- एक मात्र ऐसे क्रिकेटर जो की जम्मू कश्मीर से है IPL 2018 में खेलते हुए नजर आएंगे. मंजूर को पंजाब ने 60 लाख में ख़रीदा है. एक बेहद की मजदुर परिवार से ताल्लुक रखने वाले मंजूर के परिवारवाले इस खबर को सुनकर बहुत खुश होंगे. इन्होने इससे पहले 9 टी20 मैच खेले है.

टी नटराजन :-
टी नटराजन के परिवार को इस बात की चिंता रहती थी की सुबह का भोजन नसीब हो गया शाम का भोजन नसीब भी होगा या नहीं. आप समझ सकते है कितने गरीब परिवार से बिलोंग करते है नटराजन . 20 साल की उम्र तक इन्होने बस टेनिस बाल से क्रिकेट खेली. तमिल नाडू प्रीमियर लीग था जिसने इनकी तक़दीर में चार चाँद ला दिए. इसी का नतीजा रहा की IPL 2017 में 3 करोड़ की भरी रकम के साथ इन्हें पंजाब ने आईपीएल खेलने के पदार्पण का मौका दिया.   नटराजन इस आईपीएल में हैदराबाद की तरफ से खेलते हुए नजर आएंगे.

आईपीएल हिस्ट्री के पाँच मास्टर स्ट्रोक :-

इसमें कोई दोहमत वाली बात नहीं की आईपीएल ने जब से कदम रखा है क्रिकेट को और साथ ही साथ क्रिकेट प्रेमियों के लिए एक सेलिब्रेशन का नया जूनून नए रंग में लाती रही है. आइए बात करते है आईपीएल के 5 मास्टर स्ट्रोक की.

  1. आश्विन ने आईपीएल 2011 के फाइनल में ली नयी गेंद :- फाइनल में मुरली विजय और माइक हसी के बड़ी लम्बी पार्टनरशिप हुई जिसने चेन्नई को 205 के बड़े लम्बे स्कोर बनाने में अहम भूमिका निभाई. अब बारी थी रॉयल चलेंजेर्स बैंगलोर की उस स्कोर के पार जाने की. महेन्द्र सिंह धोनी अपने अलग कप्तानी के लिए जाने जाते है. उन्होंने पहला ओवर आश्विन से कराया. आश्विन ने अपने कप्तान को निराश नहीं किया और पहली ही बाल पर गेले हो गये आउट. गेले के आउट होते है रॉयल चलेंजेर्स मैच हार गई और लगातार दूसरी बार चेन्नई बन गया चैंपियन.
  2. गौतम गंभीर का महेंद्र सिंह धोनी के विरुद्ध चाल:-

    गौतम गंभीर हमेशा से अपने एग्रेसिव कप्तानी के लिए जाने जाते है. ऐसा की कप्तानी उनकी देखने को मिली जब पुणे और कोलकाता के बीच मैच हो रहा था. धोनी जब बत्टिंग करने आए तो पुणे का स्कोर था 74-4 विकेट के नुकशान पर. धोनी के मैदान पर आते ही गंभीर ने धोनी के आस-पास 3 फील्डर लगा दिए. गंभीर का इरादा और कम कर गया जब धोनी 22 बाल पर मात्र 8 बना कर क्रीज़ पर थे.

  3. सुनील नरेन:-

    सुनील नरेन को उनकी बोलिंग के जानते है उनकी विवधता के लिए जानते है. कभी किसी ने ये विश्वास नहीं किया होगा की नरेन batting भी करते है या नही. जब उन्होंने batting में ओपन किया तो कोलकाता या जो कोलकाता के प्रेमी खुशी से झूम उठे. गंभीर ने नरेन के साथ-साथ क्रिस लींन के साथ ओपनिंग करायी. ये कोलकाता के लिए फ़ायदा साबित हुआ जब रॉयल चलेंजेर्स बैंगलोर की खिलाफ सुनील ने केवल 15 बाल में 50 रन बना डाले. ये ओपनिंग सुनील की गंभीर ने 2017 से करायी. इस आईपीएल में भी सुनील ओपनिंग करते हुए नजर आ सकते है.

  4. क्रिस गेल का रॉयल चलेंजेर्स बैंगलोर को 2011 की तरफ से खेलना तय होना :- इससे पहले क्रिस ने 2011 के आईपीएल से अपना नाम वापस ले लिया था. डर्क नन्नेस की चोट के बाद बैंगलोर ने क्रिस की तरफ रोप किया जिसके बाद वो खेलने के लिए तैयार हुए. यही वो आईपीएल था जिसमे क्रिस ने ताबड़तोड़ 55 बाल पर 102 रन ठोक डाले.

धोनी की पोलार्ड के Against 2010 के फाइनल में फील्ड सेटिंग :-
धोनी हमेशा से कैप्टन कोल के नाम से जाने जाते है. 2010 का फाइनल D.Y Patil Stadium में चेन्नई और मुंबई के खिलाफ खेला गया था. अंतिम क्षणों की बात करें तो अंतिम 7 बाल पर 27 रन की दरकार थी. पिच पर पोलार्ड के मात्र बैट्समैन थे. धोनी ने बॉलर के ठीक पीछे स्ट्रैट मिड ऑफ लगाया. अलबी मोर्केल थे बॉलर. उन्होने बैट्समैन की गतिविधि को देखा और आउटसाइड ऑफ स्तुप्म के बाहर बाल को फेका. जिसके फलस्वरूप बैट्समैन आउट हो गया और धोनी की चाल काम आ गई. इस तरह चेन्नई ने पहली बार आईपीएल का ख़िताब अपने नाम किया.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here