कब थमेगी दरिंदगी : हरियाणा में 13 और बिहार में 9 साल की बच्ची के साथ हुआ बलात्कार

0
131
कब थमेगी दरिंदगी : हरियाणा में 13 और बिहार में 9 साल की बच्ची के साथ हुआ बलात्कार
kab thamegi darindagi

शनिवार को कानून बनाए जाने के बाद भी बलात्कार की घटनाओं में ऐसी कोई भी कमी देखने को नही मिल रही है. रविवार से कानून को लागू भी कर दिया गया है. अगर बात करें दरिंदगी खत्म होने की तो ऐसा कुछ होता दिखाई नही दे रहा है. कठुआ और उन्नाव के गैंगरेप की वारदातों के बाद पूरे देश में आक्रोश का माहौल है. कब ख़त्म होंगे ये बलात्कार?.

कैसे हुआ हरियाणा में बच्ची के साथ अपराध  :-

एक और वारदात सामने निकल कर आई है. हरियाणा के यमुनानगर में चार दरिंदो ने 13 साल की नाबालिग बच्ची को अगवा किया. अगवा कर हैवानियत की सारी हदे पार कर मंदिर परिसर में शर्मनाक तरीके से गैंगरेप किया. गैंगरेप के बाद बच्ची का सिर दिवार ने दे मारा दरिंदो ने. जानकारी की माने तो बच्ची अपने भाई बहनों के साथ सो रही थी. जिस वक्त ये वारदात हुई उस समय बच्ची के माता-पिता किसी काम की वजह से घर से बाहर गए थे.

जैसे ही माता-पिता बाहर गए उस समय का फायदा उठाकर गाँव के दो बदमाश अपने दो साथियों के साथ घर में घुसे और जबरदस्ती से बच्ची को अगवा कर जबरन मंदिर में ले जाकर बच्ची के साथ गैंगरेप किया. साथ ही साथ बच्ची को जान से मारने की भी कोशिश की गई. बदमाशो ने बच्ची का सिर दिवार में मारा जिसकी वजह  से बच्ची बेहोश हो गई. इसी समय बदमाश फरार हो गए. बच्ची को जब होश आया तो मंदिर से घर जाकर अपने घरवालों को घटना की सारी जानकारी दी.

कब थमेगी दरिंदगी : हरियाणा में 13 और बिहार में 9 साल की बच्ची से साथ हुआ बलात्कार
kab thamegi darindagi

बिहार में रेप के बाद हत्या :-

बिहार के मुजफ्फरपुर में दर्दनाक तरीके से हुए बलात्कार और उसके बाद हत्या की घटना सामने निकल कर आई है. रिपोर्ट की माने तो बिहार के मुजफ्फरपुर में 9 साल की बच्ची के साथ बलात्कार किया गया फिर उसकी हत्या कर दी गई. बच्ची का शव मक्के के खेत से बरामद किया गया. माना जा रहा है की ये घटना शानिवार की रात को हुई. बच्ची अपने पड़ोस में टीवी देखने गई हुई थी. वही से बच्ची को अगवा कर लिया गया. बच्ची के शव के बगल में उसके कपड़े भी मिले और आस-पास में बलात्कार के सबूत भी मिले.

गाँव के लोगों ने शव को देखा और इसकी जानकरी पुलिस को दी. इस घटना से पूरा गाँव आक्रोशित है. ऐसे घटनाएँ आजकल विशेष तौर पर देश के हर हिस्से में हो रही है. क्या सरकार के बनाए कानून इन दरिंदो को सबक सिखाने में कामयाब होंगे?. ऐसा कब होगा इन नाबालिग बच्चियों के साथ हो रहे रेप की वारदातों ने का केवल समाज को सचने पर मजबूर कर दिया है बल्कि बच्चियों की सुरक्षा पर भी कई सवालिया निशान भी खड़े दिए है. उम्मीद हो इस कानून से जल्द से जल्द इन दरिंदो को सजा मिले और ऐसी रेप की घटनाओं पर लगाम कसा जा सके.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here