कैसे कर रही है फेसबुक आपके साथ धोखा? फेसबुक बड़े विवाद में घिर गया है. पांच करोड़ यूजर्स के डेटा लीक को लेकर उसके खिलाफ जांच भी शुरू हो गई है और मुहिम भी. पहला असर उसके कारोबार पर पड़ा है. पहले फेसबुक के शेयर लुढ़क गए है. बाज़ार भाव से क़रीब 40 अरब डॉलर का नुक़सान हुआ है. दुनिया के सबसे अमीर लोगों के फोर्ब्स लाइव ट्रैकर के मुताबिक मार्क जुकरबर्ग की अपनी दौलत को 5.5 अरब से 6.9 डॉलर तक की चोट पड़ गई.

फिर उसकी जांच भी शुरू हो गई है. सीनेट की न्यायिक समिति ने फेसबुक, ट्विटर और गूगल के सीईओ को सुनवाई के लिए बुलाया. और अब डिलिट फेसबुक कैंपेन शुरू हो गया है, जिसमें कई बड़ी आवाज़ें शामिल हैं. मामला पांच करोड़ यूजर्स की सूचनाओं के लीक और इस्तेमाल का है.

एक कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका ने ये डेटा जुटाए और इनका इस्तेमाल किया.

  1. ये कंपनी डोनाल्ड ट्रंप और उनके चुनाव प्रचार से जुड़ी रही हैं.
  2. कंपनी दावा कर रही है कि उसने अब ये डेटा डिलिट कर दिया हैं.
  3. लेकिन अमेरिकी अख़बारों न्यूयॉर्क टाइम्स और गार्जियन के मुताबिक ऐसा नहीं किया गया हैं.
  4. फेसबुक ने इस मामले में एक बाहरी कंपनी को ऑडिट पर लगाया हैं.

टिप्पणिया अपने यूज़र्स की सूचनाओं की सुरक्षा में लापरवाही बरतने के लिए फेसबुक की आलोचना हुई है. अब बड़ा सवाल बचा हुआ है कि ये डेटा किस लिए इस्तेमाल किया जा रहा था और कब से. यही नहीं, फेसबुक के चीफ़ ऑफ़िसर अलेक्स स्टैमॉस की भी कंपनी से विदाई तय है, लेकिन इस मामले में अब तक मार्क जकरबर्ग की चुप्पी सबको हैरान कर रही है.

फेसबुक के स्टॉक में आयी गिरावट:-

मंगलवार को न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में फेसबुक का शेयर 5.7 फीसदी गिरकर 6 महीने के निचले स्तर 162.74 डॉलर पर आ गया. यह सोमवार के 6.8 प्रतिशत की गिरावट के बाद, मार्च 2014 के बाद से सबसे बड़ी गिरावट हैं. कंपनी ने कहा कि मंगलवार और बुधवार को छह समितियों के लिए ब्रीफिंग सत्र आयोजित करेगा, जिसमें हाउस और सीनेट की न्यायिक, वाणिज्यिक और खुफिया समितियां भी शामिल होंगी.

सीनेट की न्यायिक समिति के एक शीर्ष डेमोक्रेट ने कहा कि सांसदों को यह पता लगाने के लिए उत्सुक हैं कि सूचना का उपयोग कैसे किया गया और क्या यह अन्य देशों के हाथों में चला तो नहीं. “हमारे पास इस बारे में कई सवाल हैं कि यह जानकारी किस प्रकार इस्तेमाल की गई थी, चाहे वह रूस को दी गई हो या कैंब्रिज एनालिटिका और ट्रम्प अभियान, जो कि विलीलीक्स के साथ हुई.

कैलिफ़ोर्निया के सीनेटर डियान फेनस्टीन ने ऐसा कहा. फेसबुक का दावा है कि कोगन ने अपनी नीतियों का उल्लंघन किया जब उन्होंने कैंब्रिज एनालिटिका और उसके ब्रिटिश सहबद्ध सामरिक संचार प्रयोगशालाओं के साथ संवेदनशील डेटा साझा किया.

प्रमुख बिंदु:-

सबसे उपयोगी सोशल साईट फेसबुक का हुआ डाटा लीक.

फेसबुक के स्टॉक में आई गिरावट.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here