काठमांडू एयरपोर्ट पर लैंड करते हुए प्लेन हुआ क्रैशनेपाल के काठमांडू इंटरनैशनल एयरपोर्ट पर विमान क्रैश हो गया. यह विमान यूएस-बांग्ला एयरलाइन का था. विमान त्रिभुवन इंटरनैशनल एयरपोर्ट के पूर्वी भाग में जाकर गिरा. एयरपोर्ट के प्रवक्ता ने कहा कि दुर्घटना में कई लोगों के हताहत होने की आशंका हैं. खबरों के मुताबिक, विमान में 67 यात्री सवार थे. 17 हुए घायल लोग घायल होने की खबर है.

विश्व स्तर पर भी ऐसी घटनाए होना किसी बड़े दुःख से कम नहीं हैं

विश्व स्तर पर भी ऐसी घटनाऐ होना किसी बड़े दुःख से कम नहीं हैं. ऐसी घटनाओं की समीक्षा होनी चाहिये. साथ ही साथ ऐसी घटनाओं की रोकथाम के लिए भी आवश्यक कदम उठाए जाने चाहिये. सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई कुछ तस्वीरों में एयरपोर्ट के रनवे पर धुआं उठता दिखाई दे रहा हैं. अधिकारियों की मानें तो विमान में तकनीकी खराबी की वजह से यह दुर्घटना हुई हैं. क्रैश के बाद एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया हैं.

क्या ऐसी घटनाओं में कमी आएगी ? क्या इसी घटनाओं को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जायेंगे. प्लेन क्रैश होना और परिजनों को खोना किसी परिवार के लिए बड़े दुःख से कम नहीं. यह ऐसी पीड़ा है जिसका कोई अंत नहीं. जिसकी कोई सीमा नहीं. पर्यटन मंत्रालय के जॉइंट सचिव सुरेश अचार्य के मुताबिक 17 घायल लोगो को बचा लिया गया हैं, एवं अलग अलग अस्पतालों में भेज दिया गया हैं.

बचाव कार्य में नेपाल की सेना भी जुटी हुई हैं. रिपोर्ट के मुताबिक लैंडिंग के दौरान प्लेन रनवे की तरफ झुका और पास के फुटबॉल ग्राउंड में जाकर क्रैश हो गया. विमान ढाका से काठमांडू आ रहा था. जिन लोगो की जाने गयी उनका जिम्मेदार कौन होगा ? सरकार तो बस इतना कहेगी हमे मृत लोगो के प्रति संवेदना हैं. भगवन उनकी आत्मा को शांति दे. परंतू यह पर्याप्त नहीं है.  दुनिया भर की एयरलाइन्स को अंतर्राष्ट्रीय स्टार पर यात्रीयों की सुरक्षा के लिए कड़ी गाइडलाइन  बनाने एवं उन्हें लागू करने की जरूरत है.

प्रमुख बिंदु इस प्रकार हैं :-

  • काठमांडू एअरपोर्ट पर लैंड करते हुए प्लेन हुआ क्रैश.
  • 20 के शव बरामद किये गए.
  • 17 घायलों को अलग-अलग अस्पताल में भेजा गया.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here