Emmanuel Macron की भारत यात्रा -शीर्ष एजेंडा पर परमाणु समझौता और समुद्री सुरक्षा
Emmanuel Macron की भारत यात्रा -शीर्ष एजेंडा पर परमाणु समझौता और समुद्री सुरक्षा

फ्रांस के राष्ट्रपति Emmanuel Macron इस हफ्ते भारत की यात्रा पर आ रहे हैं और इस दौरान भारत और फ्रांस के बीच महाराष्ट्र स्थित जैतापुर न्यूक्लियर प्लांट को गति प्रदान करने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर होने की संभावना है. सूत्रों ने यह जानकारी दी है. इस परियोजना के तहत छह रिएक्टरों का निर्माण किया जाएगा, जिसमें से प्रत्येक की क्षमता 1650 मेगावाट होगी. फ्रांसीसी पक्ष के अनुसार, इस समझौते की शर्तों के बारे में निर्णय लेने के लिए दोनों देशों के बीच बातचीत चल रही है.

भारत सरकार के एक अधिकारी ने नाम नहीं उजागर करने की शर्त पर बताया कि फ्रांस की कंपनी ईडीएफ और भारतीय परमाणु ऊर्जा निगम (एनपीसीआईएल) के बीच समझौते पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है, लेकिन यह अंतिम समझौता नहीं होगा. अंतिम समझौता फ्रांस के राष्ट्रपति के भारत दौरे के समय हो सकता है.

Emmanuel Macron की भारत यात्रा -शीर्ष एजेंडा पर परमाणु समझौता और समुद्री सुरक्षा
Emmanuel Macron की भारत यात्रा -शीर्ष एजेंडा पर परमाणु समझौता और समुद्री सुरक्षा

फ्रांस के राष्ट्रपति Emmanuel Macron 9 मार्च को भारत के 4 दिनों के दौरे पर आ रहे हैं. राष्ट्रपति Emmanuel Macron के दौरे के दौरान भारत और फ्रांस के बीच रक्षा समेत कई बड़े समझौते होने के आसार हैं. ऐसे में राष्ट्रपति एमैनुअल के भारत दौरे पर दुनियाभर की नजर है. राष्ट्रपति एमैनुअल के इस भारत दौरे से चीन और पाकिस्तान खासकर परेशान नजर आ रहा है, हालांकि इन देशों की ओर से अभी को टिप्पणी नहीं आई है.

 

Emmanuel Macron की भारत यात्रा -शीर्ष एजेंडा पर परमाणु समझौता और समुद्री सुरक्षा
Macron की भारत यात्रा -शीर्ष एजेंडा पर परमाणु समझौता और समुद्री सुरक्षा

Emmanuel Macron की यात्रा के दौरान जैतपुर न्यूक्लियर पॉवर प्रोजेक्ट के समझौते पर दस्तखत होने की उम्मीद है. इसके एक दिन बाद इंटरनेशनल सोलर अलायंस (आइएसए) की बैठक होगी, जिसमें दोनों नेता भाग लेंगे. यह इसकी पहली बैठक होगी. सौर ऊर्जा के बेहतर इस्तेमाल को लेकर मोदी व Emmanuel Macron से पूर्व फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसिस हॉलेंडे ने दो साल पहले इस पर काम शुरू किया था. Emmanuel Macron के साथ उनकी पत्नी ब्रिगिटे मेराइ-क्लाउडे मैक्रों भी भारत आ रही हैं.

 

समुद्री सुरक्षा पर हो सकती है प्रधान मंत्री मोदी के साथ चर्चा

Emmanuel Macron की भारत यात्रा -शीर्ष एजेंडा पर परमाणु समझौता और समुद्री सुरक्षा
Emmanuel Macron की भारत यात्रा -शीर्ष एजेंडा पर परमाणु समझौता और समुद्री सुरक्षा

समुद्री सुरक्षा और परमाणु सहयोग, मुलाकात के मुख्य अंग होंगे, जिन बांतो पर फ्रांस के राष्ट्रपति Emmanuel Macron प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी दोनों इस सप्ताह के अंत में भारत यात्रा के दौरान चर्चा करेंगे.

एक सूत्र से पता चला है की , यह फ्रांस-भारत द्विपक्षीय संबंध में एक नया तत्व है, जिसके लिए काम को बहुत करीब से देखने की आवश्यकता होगी. मैक्रॉन की यात्रा के दौरान, दोनों देशों से समझौतों पर हस्ताक्षर किए जाने की उम्मीद है, जिससे भारतीय महासागर में फ़्रैंच सैन्य ठिकानों तक भारत को जाने की अनुमति मिल जाएगी.

फ़्रांस हिंद महासागर में सबसे बड़ी शक्ति बनी हुई है, जिसमें अचल संपत्ति की सबसे बड़ी राशि है, जिसमें लगभग 11 मिलियन वर्ग किलोमीटर के अन्य आर्थिक क्षेत्र विशेष रूप से मोज़ाम्बिक में फ्रांसीसी विदेशी प्रदेशों के हिस्से के रूप में 10 से अधिक द्वीपसमूह हैं. जिबूती, अबू धाबी और रीयूनियन द्वीप समूह में फ्रांस के सैन्य ठिकानों के लिए, भारत इसे यहां एक आकर्षक सामरिक भागीदार के रूप में मानता है.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here