नेमोलोजी : आपको मानना पड़ेगा नाम बदलने से भाग्य बदलता है ?

0
152
नेमोलोजी : आपको मानना पड़ेगा नाम बदलने से भाग्य बदलता है ?
नेमोलोजी : आपको मानना पड़ेगा नाम बदलने से भाग्य बदलता है ?
नेमोलोजी : आपको मानना पड़ेगा नाम बदलने से भाग्य बदलता है ?
नेमोलोजी : आपको मानना पड़ेगा नाम बदलने से भाग्य बदलता है ?

क्या आपने कभी सोचा है की आपके लिए शुभ भी है या नही?. क्या आपने कभी सोचा है की आपका भाग्य बदल भी सकता है?. नाम इंसान की पहचान तो कराती है और साथ ही नाम ऐसा होना चाहिए जिसे सुनकर व्यक्ति मुड़कर देखे. ज्योतिष की बात करें तो नाम का बहुत बड़ा महत्व बताया गया है. न्युमेरोलोजी की माने तो नाम के पहले अक्षर का महत्व ना होकर आपके पुरे नाम का अलग महत्व बताया गया है. आज आपको इसी से सम्बंधित हम बताने जा रहे है की नाम के बदलने से कैसे आपका भाग्य बदलेगा.

क्या आपका नाम आपके लिए शुभ संकेत देता है ?

वेदशास्त्र और धर्म ग्रन्थ की माने तो मनुष्य की भाग्य कभी बदल ही नही सकता है. मनुष्य जीवन की तीन मुख्य घटनाएँ जन्म,मरण,विवाह कतई नही बद्लाजा सकता है. लेकिन नाम के बदलते ही आपके जीवन के रुपरेखा में खासा बदलाव मिलता है. ज्योतिष के दो आधार मूलांक और भाग्यांक जन्म की तारीख से बनते है जिन्हें बदला नही जा सकता.

मूलांक और भाग्यांक जानने की सरल विधि क्या है?

अगर आपको मूलांक और भाग्यांक सरल विधि से जानना है तो जन्म तारीख को जोड़ ले वो आपका होगा मुल्यांक और जन्म तारीख,माह और सन को जोड़ ले वो कहलायेगा भाग्यांक. मन लीजिए 2,1,11 का मुल्यांक 1 होगा 28-01-1990 की जन्म तारीख का भाग्यांक 1 होगा. इसमे अगर आप जन्म तारीख माह और सन का योग करेंगे तो 30 आएगा. इसका योग 3+0 = 3 यानि मुल्यांक 3 होगा. ठीक ऐसे ही जानते है नामांक कैसे निकाले?. अब हो सकता है आपका भाग्य ठीक.

नामांक कैसे निकाले ?

इस विधि में अलग-अलग क्रमांक प्रयोग किए जाते है. आपको बताते है जैसे A  से J तक को 1 से 9 और K से S और उसी तरह से O से Z तक को लिखकर जन्मांक लिकाला जाता है. अगर ये विधि आपको समझ नही आई तो एक और विधि आपको बताने जा रहे है वो निम्न प्रकार से है. इस तरीके में A से लेकर Z तक के अक्षरों को लगा-अलग अंक प्रदान किये गए है. A I Q Y  को 12 अंक वही  BK Q को  13 अंक  अगर बात करें C G L S को 15 अंक  E G N X को  16 अंक  U Y W  को 17 अंक  O Z  को 8 अंक  F P को 1 अंक दिए गए है.

नाम बदलने के क्या है लाभ ?

रिपोर्ट की माने तो जिनके मुल्यांक,भाग्यांक और नामांक में तालमेल नही होता वे मनुष्य जीवन में जूझते हुए समस्या से जीवन बसर करते रहते है. जन्मांक और भाग्यांक तो निश्चित है उसे कोई बदल नही सकता है. सिर्फ बचता है नामांक जिसे आप बदल कर अपनी जूझती जिंदगी से निजात पा सकते है. आइए जानते है नामांक से जुड़ी शुभ रंग और शुभ दिशा.

1. नंबर 1 :-

इस अंक की बात करें तो ये इस अंक वाले व्यक्ति राजा है. ऐसे मनुष्य स्वतंत्र व्यक्ति के धनि होते है. इनके लिए शुभ तिथि 1,10,19 और 28 है. 4 अंक से इनका जबरदस्त आकर्षण होता है. इसके स्वामी सूर्य है. इनके शुभ दिन की बात करें तो रविवार और सोमवार है. शुभ रंग की बात करें तो हरा पिला और भूरा है. ये सभी मनुष्य अपने ऑफिस,बिस्तर और दिवार पर इसी रंग का प्रयोग करें भाग्य देगा आपका साथ.

  1. नंबर 2 :-

    इस अंक की बात करें तो अंक 2 का संबंध मन से है. इस अंक के स्वामी चन्द्रमा है. 2,11,20,29 तारीख शुभ मणि जाती है. ये अंक मानसिक आकर्षण,हृदय में रही भावना,दुविधा को दर्शाता है. सफेद और हल्का हरा इनका शुभ रंग माना जाता है. अगर शुभ दिन की बात करे तो शुक्रवार,रविवार और सोमवार शुभ दिन माना जाता है.

  2. नंबर 3 :-

    3,12,21,30 शुभ दिन माने जाते है. मंगलवार,गुरुवार,शुक्रवार इस अच्छे दिन माने जाते है. पिला और गुलाबी रंग शुभ रंग माना जाता है. शुभ माह जनवरी और जुलाई है. इस अंक के स्वामी देव गुरु वृहस्पति को माना गया है.

  3. नंबर 4 :-

    अब बात करते है नंबर 4 की तो इसका प्रधिनिधित्व हर्बल और राहू करते है. 2,11,20 और 29 शुभ तारीख माने जाते है. अगर और एक अंक की बात करें तो एस अंक से भौतिक सुख संप्रदा सम्पति कब्जा प्राप्त होता है. रविवार,सोमवार और शनिवार शुभ दिन माना जाता है. अगर श्रेष्ठ दिन की बात करे तो शनिवार सबसे श्रेष्ठ है. नीला और भूरा रंग शुभ है.

  4. नंबर 5 :-

    अब बात करते है नंबर 5 की. इस अंक में शुभ तिथि को देखा जाए तो वो है 5,14 और 23. अगर शुभ दिन की बात करे तो वो है सोमवार,बुधवार और शुक्रवार, जिनमे शुक्र को सबसे श्रेष्ठ माना गया है. अगर अशुभ अंक की बात करे तो वो है 2,6 और 9. अगर बात करे शुभ रंग की तो खाकी,हल्का हरा है.

  5. नंबर 6:-

    अब बात करते है नंबर 6 के बारे में. शुभ तिथि की बात करें तो 6,15 और 24 तारीख है. अब बगर बात करें शुभ रंग की तो आसमानी,हल्का गहरा नीला और गुलाबी रंग शुभ माने जाते है. मंगलवार,गुरुवार और को श्रेष्ठ दिन माना जाता है. जानकारी के लिए आपको बता दे लाल और काले रंग का प्रयोग बिलकुल ना करें. अगर 6 अंक की बात करें तो वैवाहिक जीवन प्रेम और प्रेम-विवाह,आपसी संबंध,सहयोग के लिए माना जाता है.

  6. नंबर 7 :-

    अब बात करें नंबर 7 की तो महीना के 7,16 और 25 तारीख सर्वश्रेष्ठ है. 21 जून से 25 जुलाई तक की तारीख शुभ मानी गई है. सात अंक का मतलब आपसी तालमेल,साझेदारी,समझौता कटुता को जन्म देता है. रविवार,सोमवार और बुधवार सर्वश्रेष्ठ माना गया है.

  7. नंबर 8 :-

    इस अंक के शुभ दिन की बात करें तो रविवार,सोमवार और शनिवार है. अगर शुभ तारीख की बात करें तो 8,17 और 26 है. शुभ रंग की बात करें तो भूरा,गहरा नीला,बैगनी ,सफेद और काला शुभ है. इस अंक के स्वामी की बात करे तो वो शनि है. शनि का अंक होने से शारीरिक,मानसिक,आर्थिक कमजोरी,क्षति हानि,मृत्यु होता है.

  8. नंबर 9 :-

    इस अंक के श्रेष्ठ तारीख की बात करे तो वो है 9,18,27 है. मंगलवार,गुरुवार और शुक्रवार शुभ दिन माना जाता है. गहरा लाल और गुलाबी शुभ रंग है. ये अंतिम इकाई होने की वजह से युद्ध,क्रोध उर्जा,साहस और तीव्रता देता है.

  • प्रमुख बिंदु :-
    नाम बदलने से कैसे बदले अपनी किस्मत?.
  • एक फार्मूला जिससे आपकी किस्मत बदल जाएगी.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here