सोने के 17 नियम

0
489

नींद एक ऐसी चीज जो दुनिया के हर जीव को प्यारी हैं एक ऐसा नशा जो सबको आता है. एक ऐसी दवा जो हर परेशानी का इलाज है. पर क्या आपको पता है इसके लिए भी कुछ नियम है. जो हमारे लिए बताये जाते हैं. इन्हें आप सोने के नियम भी कह सकते हैं. क्योकि इससे जुड़े बहुत से तथ्य है जो हमे बताते है ये सोने के नियम बिलकुल सही हैं तो क्या आपको पता है की सोने के क्या नियम है. चलिए हम आपको बताते हैं.

सोने के कुछ ऐसे नियम जो आपको अपने दैनिक जीवन में आपको पालने चाहिए. आपको सोते समय इन बातों को ध्यान में रखना चाहिए.

कौन सी बातें आपको सोते समय ध्यान रखनी है

  • मनुस्मृति के अनुसार खाली घर में अकेला नहीं सोना चाहिए. देवमन्दिर और श्मशान में भी आपको नहीं सोना चाहिए.
  •  विष्णुस्मृति के अनुसार किसी सोए हुए जीव को अचानक नहीं जगाना चाहिए.
  • चाणक्यनीति के अनुसार स्टूडेंट, वर्कर औऱ चौकीदार, इनको ज्यादा देर तक नहीं सोने देना चाहिए, आप इन्हें जगा सकते हैं.
  • देवीभागवत के अनुसार स्वस्थ मनुष्य को आयुरक्षा हेतु ब्रह्ममुहुर्त या सुबह बहुत जल्दी उठना चाहिए.
  • पद्मपुराण के अनुसार बिल्कुल अंधेरे कमरे में नहीं सोना चाहिए.
  • अत्रिस्मृति में कहा गया गई की भीगे पैर नहीं सोना चाहिए. सूखे पैर सोने से लक्ष्मी (धन) की प्राप्ति होती है।
  • महाभारत में बताया गया है की टूटी खाट पर तथा जूठे मुंहकभी नहीं सोना चाहिए.
  • गौतमधर्मसूत्र में साफ़ साफ़ बताया गया है की नग्न होकर नहीं सोना चाहिए.
  •  आचारमय़ूख के अनुसार पूर्व की तरफ सिर करके सोने से विद्या, पश्चिम की ओर सिर करके सोने से प्रबल चिन्ता, उत्तर की ओर सिर करके सोने से हानि व मृत्यु, तथा दक्षिण की तरफ सिर करके सोने से धन व आयु की प्राप्ति होती है.
  •  बड़े बड़ों का कहना है की दिन में कभी नही सोना चाहिए. परन्तु गर्मीयों मे दोपहर के समय 48 मिनट के लिए सोया जा सकता है वरना आपकी किस्मत आपका साथ नहीं देगी.
  • ब्रह्मवैवर्तपुराण के अनुसार दिन में तथा सुर्योदय एवं सुर्यास्त के समय सोने वाला रोगों से घिर जाता है और गरीबी आती है.

कुछ और बातें जो ध्यान रखें

  • सूर्यास्त के 3 घंटे बाद तक आपको सो जाना चाहिए.
  • बायीं करवट लेकर आपका सोना स्वास्थ्य के लिये लाभकारी है
  • दक्षिण दिशा में पाँव करके कभी नही सोना चाहिए. यम और दुष्टदेवों का निवास रहता है. कान में हवा भरती है. मस्तिष्क में रक्त का संचार कम को जाता है स्मृति- भ्रंश, मौत व असंख्य बीमारियाँ होती है.
  • ह्रदय पर हाथ रखकर, छत के पाट या बीम के नीचें और पाँव पर पाँव चढ़ाकर निद्रा न लें.
  • जहाँ आप सोते हैं वहां पर बैठकर खाना-पीना अशुभ है.
  • सोते सोते कभी  नहीं पढना चाहिए.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here