कुछ काम ऐसे भी होते है जो कभी छुपते नहीं हाल फ़िलहाल में जरुर इन कामों को आप छुपा लेंगे लेकिन भविष्य में ये काम सबके सामने आ ही जाते हैं. और जब इन कामों का पता सभी को लगता हैं तो समाज में घर में अपने करिबियों के सामने शर्मिंदा होना पड़ता है, और कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. यहां जानिए वे कौन से ऐसे काम है जिनको हम औरो से कुछ समय के लिए तो छुपा सकते हैं पर हमेशा के लिए ये छुपते नहीं है और आने वाले समय में सबको पता लगने पर हमे सबके सामने शर्मिंदा होना पड़ता है ये स्त्री-पुरुष और उनके जीवन को बर्बाद कर सकते हैं.

अनैतिक या गलत संबंध बनाना

कोई भी हो स्त्री-पुरुष जो भी अनैतिक संबंध बनाते हैं, वे इस काम को छिपाने की बहुत कोशिशें करते हैं. ये काम छिपता नहीं है, एक दिन सभी के सामने ये राज खुल ही जाता है. इस काम के कारण कई दूसरे काम भी गलत होने लगते हैं जो कि स्त्री-पुरुष, दोनों को ही बर्बाद कर देते हैं. इस संबंध में भी कई उदाहरण दिखाई देते रहते हैं. शास्त्रों में इसे महापाप माना गया है. इस पाप से बचना चाहिए. अपनों को धोखा देना खुद को धोका देना हैं.

क्रोध करना

जो क्रोध करते हैं, वे इस भाव को अधिक समय तक छिपा नहीं सकते हैं. अहंकारी व्यक्ति खुद को सज्जन बताने कि कितनी भी कोशिश करे, लेकिन उसका अहंकार सभी के सामने आ ही जाता है. अहंकार के कारण व्यक्ति पाप करने में भी सोचता नहीं है. इसी कारण अहंकारी व्यक्ति को भी पापी की श्रेणी में ही रखा जाता है. रावण और दुर्योधन अहंकार के कारण ही लगातार पाप करते रहे.

झूठ बोलना

हम सभी को पहले से ही पता है और हम सभी जानते हैं कि एक झूठ को छिपाने के लिए सौ झूठ और बोलना पड़ते हैं, और अंत में वे झूठ सबके सामने आ ही जातें हैं, झूठ अधिक समय तक छिपाया नहीं जा सकता है. महाभारत में भी कर्ण ने परशुराम से झूठ बोला था कि वह ब्राह्मण है. परशुराम में कर्ण को ब्राह्मण समझकर उसे सभी प्रकार के अस्त्र-शस्त्र का ज्ञान दिया, लेकिन एक दिन परशुराम को ये सच्चाई मालूम हो गई कि कर्ण ब्राह्मण नहीं है.

इसके बाद परशुराम ने शाप दे दिया था कि कर्ण को जिस समय इन अस्त्र-शस्त्र की सबसे ज्यादा आवश्यकता होगी, उसी समय वह इन्हें चलाना भूल जाएगा. इसी शाप के कारण कर्ण महाभारत युद्ध में अर्जुन के सामने इन शक्तियों को भूल गया था और अर्जुन के बाण से मारा गया था. इसीलिए हमें भी झूठ बोलने से बचना चाहिए. हम कहते हैं ना झूठ छुपाये नहीं छुपता. इसलिए किसी भी स्त्री या पुरुष को आपस में झूठ नहीं बोलना चाहिए.

धोखा देना या कपट करना

धोखा देना या कपट करना का सबसे अच्छा उदाहरण हैं महाभारत का युद्ध दुर्योधन और मामा शकुनि के धोखे और कपट का भी परिणाम था. कौरवों ने पांडवों के साथ कई बार कपट किया था और अंत में पांडवों के हाथों सभी कौरव मारे गए. भगवान भी कपटी लोगों की मदद नहीं करते हैं. इसीलिए कपट से बचना चाहिए. कपट भी लंबे समय तक छिप नहीं सकता है. दूसरों को धोखा देना पाप है और इस पाप की सजा अवश्य मिलती है.स्त्री पुरुष को भी कभी कपट नहीं करना चाहिए ये उनके लिए अच्छा नहीं है किसी को धोखा देना मतलव खुद को धोका देना भी हैं क्योकि जब यह सबके सामने आएगा तो शायद आप इन बातों का सामना ना कर पायें.

किसी को जान से मार देना

ये ऐसा पाप है, जिसकी सजा अवश्य मिलती है. शास्त्रों के अनुसार किसी की भी जान से मारना  बहुत बड़ा पाप है. जिसके लिए कोई क्षमा नहीं मिल सकती है. किसी की मृत्यु कभी भी छिप नहीं सकती है. हमारे सामने ऐसे या इस संबंध में कई उदाहरण आते रहते हैं, जहां ये बात साबित हो जाती है कि कितनी भी प्लानिंग क्यों ना हो तब भी , हत्या सामने आ ही जाती है. हत्या के दोषी को देर से सही पर सजा जरूर मिलती है. इस पाप को छिपाने की सभी कोशिशें असफल हो जाती हैं.

तो आज हमने आपको बताया की वे काम जिनको करने से आपको और आपके अपनों को बहुत ज्यादा अपमानित करेगीं जिनको करने से आपका जीवन भी बर्बाद हो सकता है. इन कामों को अपनी जिन्दगी में कभी ना करें. हमेशा सच के साथी रहें और अपनी जिन्दगी अच्छे से व्यतीत करें.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here