होम टैग्स Romantic poems

टैग: Romantic poems

मुझे पास खड़ा तूं पाएगी

हर आंसू की कीमत देकर आँखों का रंग सजाऊंगा, मुस्कान भर कर होंठो पे, हँस के मैं दर्द निभाउंगा. छोड़ी है डोर प्रीत की मैने हाथों में आई जीत...

अभी वक़्त लगेगा घर पहुँचने में

अभी उतरा हूँ तेरी चौखट से, हिसाब तो होगा बड़ी फुर्सत से, कहाँ गलतियाँ हुई तुझे समझने में, अभी वक़्त लगेगा घर पहुँचने में... कुछ निशान मिटाने हैं...

सूखी एक बंज़र जमी ने जो पुकारा मुझे

  ये कविता एक ऐसे समय की है जब एक "विशेष" लक्ष्य की प्राप्ति के लिए आगे बढ़ रही निश्छल, पवित्र और निष्कलंक लड़की एक...

शाम ढलने लगी और ये बेताबियाँ

शाम ढलने लगी और ये बेताबियाँ, दिल में फिर तेरी यादें जगाने लगी, बंद करके ये पलके भरी आह बस, तेरी खुश्बू से आँखे नहाने लगी. कई दिनों...

तुम साथ बैठी रहो तो हर कमी मंजूर है

तुम साथ बैठी रहो, तो हर कमी मंजूर है...   मुझे आह मंजूर है, आँखों की नमी मंजूर है, तुम साथ बैठी रहो, तो हर कमी मंजूर...

बसंत ने फिज़ाओ में प्यार घोल दिया है

बसंत ने फिज़ाओ में प्यार घोल दिया है हर दिल इस वक़्त प्यार के खुमार में गुम है यही प्यार हमारी हिंदी फिल्मों की जान...

MOST POPULAR

HOT NEWS