Yuvraj Singh ने क्रिकेट से संन्यास को लेकर दिया बयान
Yuvraj Singh ने क्रिकेट से संन्यास को लेकर दिया बयान

भारतीय क्रिकेट टीम के करामाती विस्फोटक बल्लेबाज Yuvraj Singh ने अपने संन्यास को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्हौंने कहा है कि वो अपनी शर्तों पर ही संन्यास लेंगे और भारतीय टीम में वापसी की उम्मीद भी उन्हौंने नही छोड़ी है. Yuvraj Singh ने ये भी कहा कि वो 2-3 सीजन तक आईपीएल भी खेलते रहेंगे.

 

स्पोर्टस्टार लाइव से इंटरव्यू के दौरान

स्पोर्टस्टार लाइव से इंटरव्यू के दौरान Yuvraj Singh ने कहा कि मैं किसी पछतावे के साथ संन्यास नहीं लेना चाहता. मैं कुछ साल और खेलने के बारे में सोच रहा हूँ. मैं तभी संन्यास लूंगा जब मुझे लगेगा कि क्रिकेट छोड़ने का यही समय है. Yuvraj Singh ने कहा कि जब मुझे लगेगा कि मैंने अपना बेस्ट क्रिकेट खेल लिया है और इससे ज्यादा अच्छा मैं नहीं खेल पाउंगा तब मैं संन्यास ले लूंगा. मैं अभी इसलिए भी खेल रहा हूं क्योंकि मैं अभी क्रिकेट का पूरा लुत्फ उठा रहा हूँ.

मैं केवल भारतीय टीम या आईपीएल में खेलने के लिए क्रिकेट नहीं खेल रहा हूँ. हालांकि निश्चित तौर पर लक्ष्य भारतीय टीम के लिए ही खेलना होता है. मुझे लगता है कि मैं अभी 2 या 3 आईपीएल और खेल सकता हूँ. युवराज ने आगे कहा कि मेरा अभी तक का सफर अच्छा रहा है. मैं मुश्किलों से कभी नहीं डरा और विपरीत परिस्थितियों में भी हिम्मत नहीं हारी.

संन्यास लेने के बाद क्या करेंगे Yuvraj Singh

Yuvraj Singh ने क्रिकेट से संन्यास को लेकर दिया बयान
Yuvraj Singh ने क्रिकेट से संन्यास को लेकर दिया बयान

Yuvraj Singh ने कहा कि संन्यास के बाद मैं उन लोगों का सहारा बनना चाहता हूँ जो कि कैंसर से जूझ रहे हैं या फिर अपने जीवन में किसी और समस्या से परेशान हैं. मैं चाहता हूँ लोग मुझे उस इंसान के तौर पर जाने जिसने कभी हार नहीं मानी. चाहे मैं भारत के लिए खेलूं या ना खेलूं मैदान पर हमेशा मैं अपना 100 प्रतिशत दूंगा.

गौरतलब है ,Yuvraj Singh ने आखिरी बार भारतीय टीम के लिए जून 2017 में वेस्टइंडीज के खिलाफ एंटीगुआ में वनडे मैच खेला था. उसके बाद फिटनेस और फॉर्म को लेकर वे टीम से बाहर रहे और अभी तक वापसी नहीं कर पाए हैं.

आईपीएल के 11वें सीजन के लिए किंग्स इलेवन पंजाब की टीम मैं Yuvraj Singh

आईपीएल के 11वें सीजन के लिए किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने उन्हें अपनी टीम में शामिल किया है. हालांकि इस बार उनके लिए महज 2 करोड़ की ही बोली लगी, जबकि 2015 में 16 करोड़ और 2017 में 7 करोड़ की बोली उनके लिए लगी थी. विजय हजारे ट्रॉफी में इस वक्त युवराज सिंह अच्छा खेल रहे हैं और आगे के मैचेस में ज्यादा से ज्यादा रन बनाकर वो भारतीय टीम में जगह जरुर बनाना चाहेंगे.

इस बात का हमेशा दुःख रहेगा

 

Yuvraj Singh ने क्रिकेट से संन्यास को लेकर दिया बयान
Yuvraj Singh ने क्रिकेट से संन्यास को लेकर दिया बयान

18वें लारेस विश्व खेल पुरस्कारों से इतर प्रेस से कहा, यह मेरे लिए काफी अहम टूर्नामेंट है क्योंकि इससे 2019 तक खेलने का रास्ता साफ़ होगा. मैं 2019 तक खेलना चाहता हूँ और उसके बाद आगे के लिए फैसला लूंगा. विश्व कप 2011 में भारत की खिताबी जीत के सूत्रधार रहे युवराज कैंसर से जंग जीतकर फिर मैदान पर लौटे. उन्हौंने कहा कि उनके कैरियर में एकमात्र दुःख यह रहेगा कि वह टेस्ट टीम में जगह पक्की नहीं कर सके.

 

Yuvraj Singh ने कहा,  मेरे कैरियर के पहले 6-7 साल में मुझे ज्यादा मौके नहीं मिले क्योंकि उस समय टेस्ट टीम में बेहतरीन खिलाड़ी थे. जब मौका मिला तो मुझे कैंसर हो गया तो यह दुःख तो हमेशा रहेगा लेकिन चीजें आपके हाथ में नहीं होती.

Yuvraj Singh ने क्रिकेट से संन्यास को लेकर दिया बयान
Yuvraj Singh ने क्रिकेट से संन्यास को लेकर दिया बयान

युवराज ने भारतीय कप्तान विराट कोहली और टीम की तारीफ की जिसने दक्षिण अफ्रीका में वनडे और टी20 श्रृंखलायें जीती है. उन्हौंने कहा, यह बेहतरीन प्रदर्शन रहा. टेस्ट श्रृंखला हारने के बाद भारत ने शानदार वापसी की और कोहली ने मोर्चे से अगुवाई की. युवराज ने कहा,  स्पिनर्स का प्रदर्शन शानदार रहा खासकर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव. विदेश दौरे पर तीन श्रृंखलायें खेलना और उनमें से दो जीतना बताता है, कि भारतीय टीम का कितना दबदबा रहा. उन्हौंने कहा,  अब टीम का लक्ष्य इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया में जीतना होगा. अगर लगातार यही प्रदर्शन करते रहे तो खिलाडिय़ों का आत्मविश्वास बढेगा.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here